दिल्ली -एनसीआर में पड़े छापे

नई दिल्ली : पनामा पेपर लीक मामलों में कर की चोरी की जाँच को लेकर आयकर विभाग द्वारा मंगलवार को दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में 25 से अधिक जगहों पर छापे मारे जाने का मामला सामने आया है. छापों के दौरान अब तक चार करोड़ रुपये की नकदी और आभूषण बरामद किए गए हैं. वहीँ कई दस्तावेज, कम्प्यूटर हार्ड डिस्क और सीडी भी जब्त करने की खबर है.

इस बारे में मिली जानकारी के अनुसार आईटी की टीमों ने तीन व्यावसायिक समूहों के यहां छापे मारे हैं, जो खास तौर से धातु , खाद्य प्रसंस्करण, वित्तीय सेवाओं और टायरों के व्यवसाय से जुड़े हैं. इन छापों में चार करोड़ रुपये नकद और आभूषण भी मिले हैं. इसके अलावा कई दस्तावेज, कम्प्यूटर हार्ड डिस्क और सीडी भी जब्त की गई हैं. बता दें कि इन व्यावसायिक समूहों के नाम और संपर्क पनामा दस्तावेजों में शामिल होने पर यह कार्रवाई की गई. जिसमे यह पता चला कि इन संस्थाओं ने अपने वास्तविक कारोबार और आय को 'बहुत अधिक छुपाने की कोशिश की गई है.

बता दें कि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आयकर विभाग द्वारा दिल्ली-एनसीआर में करीब 25 स्थानों पर यह छापे मारे गये हैं. स्मरण रहे कि केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने हाल ही में कहा था कि पनामा पेपर्स लीक मामलों की जांच में 792 करोड़ रुपये की अज्ञात धनराशि की जानकारी मिलने के मामले की तेजी के साथ जांच चल रही है.

यह भी देखें

मध्यप्रदेश आयकर विभाग का बड़ा कारनामा

आयकर कानून में बदलाव के लिए कार्य बल गठित

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -