2022 से ट्रैन में देख सकेंगे ऑन डिमांड फिल्म और वीडियो, जानिये पूरा मामला

2022 से ट्रैन में देख सकेंगे ऑन डिमांड फिल्म और वीडियो, जानिये पूरा मामला

2022 से यात्रा के दौरान रेल यात्री सिनेमा, शो, शैक्षणिक कार्यक्रम, वीडियो जैसी मनोरंजन सेवाओं का निर्बाध आनंद उठा सकते है । इसके अलावा रेलवे सार्वजनिक उपक्रम रेलटेल ने मंगलवार को बताया जा रहा है  कि यह पेड और अनपेड दोनों रूपों में उपलब्ध रह सकता है । वही सरकारी टेलीकॉम कंपनी ने जी एंटरटेनमेंट की सहयोगी मार्गो नेटवर्क को डिजीटल एंटरटेनमेंट सेवा प्रदाता (डीईएसपी) के रूप में चुना है। मार्गो नेटवर्क ट्रेनों और स्टेशनों में मांग पर कंटेंट (सीओडी) मुहैया करा सकते है ।

इसके अलावा रेलटेल ने कहा है, 'अगले दो वर्षो में भारतीय रेलवे की सभी प्रीमियम, एक्सप्रेस, मेल ट्रेनों और उपनगरीय ट्रेनों में सीओडी उपलब्ध हो सकता है ।इसके अलावा  सिनेमा, शो, शैक्षणिक कार्यक्रम जैसे कंटेंट 10 वर्षो के लिए ठेके पर पेड और अनपेड दोनों रूपों में उपलब्ध कराए जाएंगे। इसमें शुरू के दो वर्ष लागू करने के होंगे।' वही इस परियोजना में रेलटेल चलती ट्रेनों में स्थापित मीडिया सर्विस के माध्यम से विभिन्न प्री-लोडेड बहु-भाषी कंटेंट (सिनेमा, संगीत, वीडियो, सामान्य मनोरंजन, जीवनशैली) मुहैया करा सकता है ।

इसके अलावा सीओडी के साथ यात्री अपनी यात्रा के दौरान अस्थिर मोबाइल नेटवर्क के बावजूद निर्बाध रूप से मुफ्त और सब्सक्रिप्शन आधारित मनोरंजन सेवा का उपभोग कर सकते हैं। इसके साथ ही पूरी सेवा 2022 के भीतर ही तैयार कर ली जाएगी। सीओडी सेवा न केवल यात्रा अनुभव में सुधार लाएगी, बल्कि गैर किराया राजस्व भी बढ़ाएगी। रेलटेल के सीएमडी पुनीत चावला ने कहा कि इस सेवा के दायरे में भारतीय रेल के सभी 17 जोन शामिल होंगे। परियोजना से मुख्य रूप से विज्ञापन आधारित मोनेटाइजेशन, शुल्क आधारित मोनेटाइजेशन और ई-कामर्स या साझेदारी सेवा जैसे तीन क्षेत्रों से आय होगी।

'जय मम्मी दी' का नया धमाकेदार पोस्टर हुआ आउट, जल्द रिलीज होगी फिल्म

अब जांच के दायरे में आएंगे टैक्स चोरी करने वालो से लेकर सामान खरीदने वाले भी

धर्मेद्र प्रधान : एससी-एसटी वर्ग के लोगों को उद्यमी बनने की तैयारी