कांवड़ियों पर मुस्लिम समुदाय ने फिर किया हमला, कांवड़ को मारी लात, पुलिस पर भी पथराव

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के हाफिजगंज में रविवार (7 अगस्त, 2022) की शाम को काँवड़ियों को टक्कर मारकर भाग रहे मोटरसाइकिल सवार युवकों को पकड़ने के दौरान जमकर बवाल हुआ। जिसमें दो कांवड़िए जख्मी हो गए। इस घटना से आक्रोशित काँवड़ियों ने सड़क पर काँवड़ रखकर तीन घंटे तक जाम लगा दिया। मामले की सूचना मिलने पर पहुँची पुलिस जब शिवभक्तों को समझा रही थी, इसी दौरान मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पत्थरबाज़ी कर दी है। वहीं मुरादाबाद में भी छत से काँवड़ियों पर पथराव की खबर है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, SP (देहात) राजकुमार अग्रवाल ने सोमवार (8 अगस्त, 2022) को जानकारी दी है कि रविवार देर शाम बकैनिया हरहरपुर मटकली, नवदिया, बमनपुरी, मटकुला, संतोषपुर, कमुआ प्रेमपुर सहित 8 गाँवों के 400 काँवड़ियों का जत्था हरहरपुर जाने वाले मार्ग से गुजर रहा था। तभी आगे बकैनिया गाँव में ग्राम प्रधान इकरार अहमद के मकान के सामने मुस्लिम समुदाय के दो युवकों ने बाइक से कांवड़ ले जा रहे शिवभक्तों को टक्कर मार दी, जिसके कारण प्रेमपुर गाँव के काँवड़ यात्री बुद्धसेन गंगवार और योगेंद्र गंगवार जख्मी हो गए। जिसके बाद मुस्लिम युवकों से कहासुनी हो गई। जब काँवड़ियों ने भाग रहे बाइक सवारों को पकड़ने की कोशिश की, तो मुस्लिमों के घरों से काँवड़ियों पर पथराव शुरू हो गया।

वहीं, इस मामले में शिवभक्तों का कहना था कि हम लोगों का जत्था जल चढ़ाने जा रहा था, इसी बीच एक बाइक वाले ने काँवड़ को टक्कर मार दी। विरोध करने पर उसने दूसरी काँवड़ को लात भी मारी। जिसके बाद बाइक सवार के समर्थकों ने काँवड़ियों पर पत्थरबाज़ी भी की। इस पर काँवड़िए भड़क गए। सूचना मिलने पर इंस्पेक्टर हाफिजगंज अजीत प्रताप सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुँचकर स्थिति को सँभालने का प्रयास किया। रिपोर्ट के मुताबिक, देर शाम तक MLA और अधिकारी काँवड़ियों को समझाने में लगे रहे। 

ओडिशा में तिरंगा यात्रा में शामिल हुए अमित शाह, ‘राष्ट्रध्वज’ को लेकर दिया ये संदेश

पात्रा चॉल घोटाले में 'संजय राउत' की मुश्किलें बढ़ीं, 22 अगस्त तक हिरासत में भेजे गए

सिर्फ CM बने रहना चाहते हैं नितीश, उन्हें बिहार के विकास से कोई मतलब नहीं - चिराग पासवान

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -