जौहर यूनिवर्सिटी मामला: आज़म खान के परिवार पर भी कानून ने कसा शिकंजा, पत्नी को भेजा नोटिस

जौहर यूनिवर्सिटी मामला: आज़म खान के परिवार पर भी कानून ने कसा शिकंजा, पत्नी को भेजा नोटिस

रामपुर: मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी के जमीनी विवाद को लेकर रामपुर पुलिस ने समाजवादी पार्टी (सपा) नेता आजम खान की पत्नी, राज्यसभा सदस्य डॉ. तजीन फात्मा और MLA नसीर खान सहित चार लोगों को नोटिस भेजा है. यह सभी मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट के मेंबर हैं और यह ट्रस्ट ही जौहर यूनिवर्सिटी को संचालित करता है.

जौहर यूनिवर्सिटी जमीन विवाद पर रामपुर लोकसभा सीट से सपा सांसद आजम खान के खिलाफ 30 मुकदमे भी दर्ज हो चुके हैं. इतना ही नहीं स्थानीय प्रशासन उन्हें भूमाफिया भी घोषित कर चुका है. प्राप्त जानकारी के अनुसार, जमीन संबंधी सभी मामलों की विवेचना के लिए टीम बनाई है, जो सबूत जुटाने में लगी हुई है. मामलों की जांच कर रही टीम ने इससे पहले आजम खान की बहन निकहत अफलाक को भी थाने ले जाकर पूछताछ की थी. निकहत जौहर ट्रस्ट की कोषाध्यक्ष हैं.

अब पुलिस द्वारा सपा सांसद आजम खान की पत्नी तजीन फात्मा, MLA नसीर खान, जिला सहकारी बैंक के पूर्व चेयरमैन सलीम कासिम और निकहत अफलाक को नोटिस भेज कर तीन दिन के भीतर बयान देने के लिए कहा गया है. इन लोगों से यूनिवर्सिटी की जमीनों और किसानों को किए गए भुगतान के संबंध में सवाल किए जाएंगे. 

भारत से 8 साल पहले शुरू हो चुकी थी पाक की स्पेस एजेंसी, आज किसी को नाम भी नहीं पता

शिक्षक दिवस पर राष्ट्रपति कोविंद ने दी शुभकामनाएं, पीएम मोदी ने शेयर किया video

अब अपनी माँ महबूबा मुफ़्ती से मिल सकेंगी इल्तिजा, सुप्रीम कोर्ट ने दी इजाजत