किसान प्रदर्शन के बीच दिग्गज नेता ने कहा- 'PM मोदी चाहते तो एक दिन में सुलझा देते'

नई दिल्ली: दिल्ली में नए किसान बिल को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों और सरकार के बीच बातचीत बेनतीजा रही है। अब तक कोई भी समाधान नहीं निकल पाने के कारण पंजाब BJP को बैचैन होते हुए देखा जा रहा है। जी दरअसल हाल ही में भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता और पार्टी की पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष लक्ष्मी कांता चावला ने एक बयान दिया है। उनका कहना है,'आंदोलन को इतने लंबे समय तक जारी रखने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए और यदि प्रधानमंत्री चाहते तो एक दिन में ही इसको हल कर सकते हैं।'

जी दरअसल एक मशहूर वेबसाइट से बातचीत में उन्होंने कहा, 'BJP के एक नेता के तौर पर नहीं, भारत के नागरिक के रूप में मुझे लगता है कि कोई भी विरोध प्रदर्शन इतना लंबा नहीं चलना चाहिए। इसका हल जल्द से जल्द ढूंढा जाना चाहिए था। दिसंबर में जब ठंड या आत्महत्या के कारण मरने वाले किसानों की संख्या 30 तक पहुंच गई थी, तब मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भी लिखा था कि अगर कृषि मंत्री इस मुद्दे को हल करने में सक्षम नहीं हैं, तो पीएम को इस मामले को अपने हाथ में लेना चाहिए।'

इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा, 'इतना लंबा चलने के बाद भी प्रदर्शन को शांतिपूर्ण बनाए रखने पर किसानों ने दुनिया के सामने एक उदाहरण पेश किया है।' आगे उन्होंने यह भी कहा कि, 'किसान 100 प्रतिशत गलत नहीं हैं और न ही कृषि कानून। प्रधानमंत्री को खुद किसानों के साथ बैठकर इसका हल निकालना चाहिए। मुझे लगता है कि अगर प्रधानमंत्री चाहें तो एक दिन में हल निकल सकता है।'

इंग्लैंड के विरुद्ध टीम में वापसी कर सकते है कुलदीप यादव

वेडिंग वेन्यू पर पहुंचने से पहले वरुण धवन की गाड़ी का हुआ एक्सीडेंट, फिर हुआ ये।।।

पटियाला में किसान नहीं होने दे रहे 'गुडलक जेरी' की शूटिंग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -