निकाह के तुरंत बाद हुआ तलाक, पुराने नोटों ने दूल्हे को बनाया बंधक

कानपुर : फ़िलहाल देश में नोटों को बदलने का मुद्दा छाया हुआ है. वहीँ इसके पहले देशभर में जहां तीन तलाक के मुद्दे पर लगातार बहस जारी है.इसी बीच इन्ही दोनों विषयों से जुड़ा एक मामला सामने आया है जिसमें निकाह के कुछ घंटे बाद ही एक दुल्हन का तलाक होने और वधू पक्ष को पुराने नोट वापस करने पर वर पक्ष को बंधक बनाने का मामला सामने आया है.

मिली जानकारी के अनुसार बाबूपुरवा क्षेत्र के मुंशीपुरवा निवासी एक व्यापारी की बेटी का निकाह इलाहाबाद के अहल्दाबाद निवासी युवक से हुआ. बुधवार रात बारात आई थी. दोनों पक्षों ने खुशी-खुशी निकाह की सभी रस्में निभाईं, लेकिन गुरुवार सुबह कम दहेज व महंगी बाइक न मिलने पर दूल्हा नाराज हो गया. उसे जैसे तैसे शांत कराया. दुल्हन कार से विदा भी हो गई, लेकिन कुछ किलोमीटर का सफर तय करने के बाद दूल्हे ने दहेज़ के लिए दुल्हन को फिर धमकाया तो उसने अपने परिजनों को बुला लिया.

बारात वापस बारात स्थल पहुंची जहां कई घण्टे चली पंचायत के बाद भी दुल्हन ससुराल जाने को राजी नहीं हुई. दुल्हन का कहना वाजिब था कि जब अभी से धमकी दी जा रही है तो ससुराल में क्या हाल होगा. आखिर दोनों पक्षों की रजामंदी के बाद मौलवी की मौजूदगी में दूल्हे ने दुल्हन को तीन बार तलाक बोलकर शादी तोड़ दी.

तलाक होने के बाद जब वधू पक्ष ने मेहर के रुपये मांगे गए तो तीन लाख रुपये के पांच सौ रुपये के पुराने नोट दुल्हन पक्ष को दे दिए गए. इस पर दुल्हन पक्ष भड़क गयाऔर उन्होंने दूल्हे के साथ ही परिजनों को बंधक बना लिया और नए नोट की मांग की. आखिर में दूल्हे पक्ष ने लिखित में स्वीकार किया कि वे बाद में नए नोट वधू पक्ष को देंगे इसके बाद समझौता हो सका और दोनों पक्ष चले गए.

राष्ट्रीय महिला आयोग ने तीन तलाक का किया विरोध

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -