IPL फ़ाइनल : आज दोहराया जाएगा इतिहास

May 24 2015 08:56 AM
IPL फ़ाइनल : आज दोहराया जाएगा इतिहास

महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स रविवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के फाइनल में ईडन गरडस स्टेडियम में रोहित शर्मा की मुंबई इंडियंस को चुनौती देंगे। इससे पहले दोनों टीमें आईपीएल-6 और आईपीएल-3 में भी एकदूसरे के खिलाफ फाइनल मैच खेल चुकी हैं। आईपीएल-6 में मुंबई इंडियंस खिताब जीतने में सफल रहे थे, वहीँ आईपीएल-3 में चेन्नई सुपर किंग्स खिताब जीतने में सफल रहे थे. ऐसे में इस बार देखना दिलचस्प होगा कि इतिहास कौन दोहराता है. सुपर किंग्स रिकॉर्ड छठी बार फाइनल में प्रवेश करने में सफल रहा है, जिसमें उसे दो बार खिताबी सफलता भी मिली है। आईपीएल-8 में हालांकि दोनों ही टीमों के लिए फाइनल की राह आसान नहीं रही।

मुंबई ने जहां छह में से मात्र एक जीत हासिल कर बेहद खराब शुरुआत की, वहीं सुपर किंग्स भले फाइनल में पहुंच चुका है, लेकिन उसे पिछले पांच मैचों में सिर्फ दो जीत मिली है। मुंबई एक समय टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर पहुंच चुकी थी, लेकिन रोहित शर्मा के नेतृत्व में टीम ने शानदार वापसी की और दूसरे स्थान के साथ प्लेऑफ में प्रवेश किया। इसके बाद अपने गृह मैदान वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए पहले क्वालीफायर में मुंबई इंडियंस ने सुपर किंग्स को मात देकर फाइनल में स्थान पक्का किया।

दूसरी ओर, सुपर किंग्स ने 14 लीग मैचों में 18 अंकों के साथ अंकतालिका में शीर्ष स्थान हासिल किया, लेकिन पहले क्वालीफायर मैच में मिली हार ने टीम के फाइनल में पहुंचने पर संदेह पैदा कर दिया। सुपर किंग्स ने हालांकि रांची में खेले गए दूसरे क्वालीफायर में शुक्रवार को रॉयल चैलेंजर्स को तीन विकेट से हराकर खिताबी मुकाबले के लिए अपनी दावेदारी पक्की कर ली। दोनों टीमों के बीच हुए मुकाबलों की बात करें तो मुंबई इंडियंस ने 11 जबकि सुपर किंग्स ने 10 जीत हासिल की है।

बहरहाल, फाइनल मैच एक तरह से वेस्टइंडीज के स्टार खिलाड़ियों के बीच भी एक दिलचस्प मुकाबला साबित हो सकता है। सुपर किंग्स की उम्मीदें जहां सलामी बल्लेबाज ड्वायन स्मिथ और ड्वायन ब्रावो से होंगी वहीं मुंबई के प्रशंसकों की नजर लेंडल सिमंस और कीरन पोलार्ड पर होगी। ब्रावो 15 मैचों में इस संस्करण में सर्वाधिक 24 विकेट हासिल कर गेंदबाजों की सूची में सबसे आगे हैं।

इसके अलावा मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा, सुपर किंग्स के महेंद्र सिंह धौनी भी बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। मुंबई के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा और सुपर किंग्स के आशीष नेहरा पर भी अपनी-अपनी टीमों के लिए बेहतर प्रदर्शन करने का दबाव होगा।