मजार पर पूरे परिवार ने लगाया मौत को गले, चौंकाने वाली है वजह

मजार पर पूरे परिवार ने लगाया मौत को गले, चौंकाने वाली है वजह
Share:

नवादा: बिहार से एक दुखद घटना सामने आ रही है यहाँ कर्ज के बोझ में दबे एक परिवार ने मौत को गले लगा लिया है। बुधवार की देर रात नवादा नगर थाना इलाके के न्यू एरिया मोहल्ला निवासी केदार लाल गुप्ता ने अपनी पत्नी और 4 बच्चे सहित जहर खा लिया। परिवार के 5 सदस्यों की मौत हो गई, वहीं एक की हालत गंभीर बनी हुई है, जिसे चिकित्सकों ने पावापुरी विंस रेफर कर दिया था, मगर वहां से वापस उसे पटना रेफर कर दिया गया है।

मरने वालों में से घर के मुखिया केदार लाल गुप्ता, पत्नी अनिता कुमारी एवं 3 बच्चे प्रिंस कुमार, शबनम कुमारी एवं गुड़िया कुमारी सम्मिलित हैं, जबकि एक बेटी साक्षी की हालत गंभीर बनी हुई है। उसे पहले पावापुरी विंस रेफर किया गया था, किन्तु फिर नवादा जिला चिकित्सालय भेज दिया गया है। वहां भी हालत गंभीर देखते हुए साक्षी को अब पटना रेफर किया गया है। केदार लाल गुप्ता शहर के विजय बाजार में फल का दुकान चलाते थे तथा उन पर बहुत कर्ज था। कर्ज को लेकर उन्हें बहुत प्रताड़ित किया जा रहा था, जिससे परेशान होकर शहर की एक मजार के पास जाकर सभी ने जहर खा लिया। मौके पर ही परिवार के 5 सदस्यों की मौत हो गई, जबकि एक लड़की की हालत गंभीर थी। उसे चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

वही जहर खाने की खबर प्राप्त होते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई थी। इस के चलते परिवार के मुखिया केदार लाल गुप्ता की हालत थोड़ी सही थी। उनसे जब पूछा गया कि जहर क्यों खाया? तो केदार लाल गुप्ता ने कहा कि परिवार पर 10-12 लाख रुपये का कर्ज था, परिवार ने राजी खुशी होकर जहर खा लिया। तत्पश्चात, केदार लाल गुप्ता को चिकित्सालय ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। वही जहर खाने से पहले केदार लाल गुप्ता के बेटे प्रिंस ने एक वीडियो भी बनाया था। इस वीडियो में वह बोलता है, 'बाजार से कुछ लोगों से कर्ज लिया था तथा वह हम लोगों को काफी प्रताड़ित कर रहे थे, हम लोगों ने पैसा वापस करने को लेकर थोड़ा वक़्त मांगा, मगर लोग मानने को तैयार नहीं थे तथा बार-बार धमकी दे रहे थे, जिसको लेकर सबने जहर खा लिया।' वहीं साक्षी ने बताया कि पापा तनाव में चल रहे थे, उन्होंने कर्ज ले लिया था, हमें नहीं पता था। कर्ज किससे लिया? इस प्रश्न के उत्तर में साक्षी ने किसी मनीष भइया का नाम लिया। खैर पुलिस मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं तथा तहकीकात करने की बात कह रही है। 

T20 वर्ल्ड कप: इंडिया-इंग्लैंड मैच में इस चीज पर रहेगी सबकी नज़र

'अफसर हमारा फोन नहीं उठाते, मीटिंग में भी नहीं आते..', डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का हलफनामा

'मैं मोदी विरोधी नहीं..', कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव हारने के बाद ऐसा क्यों बोले शशि थरूर ?

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -