गर्भवती महिला की दुःख भरी पीड़ा, उफनती नदी को ऐसे किया पार

हरदा/ब्यूरो।  मध्य प्रदेश में इन दिनों कई इलाकों में जोरदार बारिश हो रही है और इस वजह से कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। इस कारण लोगों को परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है। सूबे के हरदा जिले के ग्राम कुकरावत में एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां जान जोखिम में डालकर एक गर्भवती महिला को ट्यूब पर बैठा कर नदी पार कराया गया। इसका वीडियो सोशल मीडियो पर वायरल होने के बाद यूजर्स राज्य की भाजपा सरकार से सवाल पूछ रहे हैं।

बारिश की वजह से जिले के नदी नाले तक उफान पर हैं और लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में हरदा जिले में एक गर्भवती महिला को ट्यूब के सहारे उफनती नदी को पार कराया गया। इसके बाद उसे 108 एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया गया। जानकारी के मुताबिक, जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। वहीं, महिला का वीडियो सामने आने के बाद एक यूजर ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “गंगा पुत्र मोदी कहां है।” जबकि, एक यूजर ने कहा, “ये जंगल राज नहीं हैं बस बिहार में अब जंगल राज हैं सिर्फ ?

इसके पहले भी मध्य प्रदेश के बैतूल में एक ऐसा ही मामला सामने आया था जब गर्भवती महिला को खाट पर लिटाकर नदी पार कराया गया था। बैतूल के जामुनढाना गांव में प्रसव पीड़ा से तड़प रही गर्भवती महिला को ग्रामीण खाट पर लिटाकर उफनती नदी पार करवाते नजर आए। कई दिनों से बैतूल में रुक-रुक कर भारी बारिश हो रही थी और इस कारण नदी-नालों का जलस्तर बढ़ गया। रूपेश टेकाम की गर्भवती पत्नी को डिलीवरी के लिए अस्पताल ले जाना था। लेकिन गांव से मुख्य मार्ग तक जाने के लिए रास्ता नहीं था और पहाड़ी नदी उफान पर थी। इसी कारण एम्बुलेंस या कोई भी दूसरा वाहन गांव तक नहीं पहुंच सकता था। ऐसे में मयंती को ग्रामीण खाट पर लिटाकर अस्पताल ले जाने के लिए निकल पड़े।

इलाज न करने के लिए डॉक्टर ने दिया ऐसा हवाला, सांप काटने के बाद नहीं बच सकी जान

ट्रम्प के भारत दौरे पर भी उतना खर्च नहीं हुआ, जितना कांग्रेस ने 'गैंगस्टर' को बचाने में कर दिया

सिखों के जख्मों पर कांग्रेस नेता ने रगड़ा नमक.. भड़की SGPC, अमृतसर में दर्ज हुआ केस

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -