फर्जी तरीके से बैंक अकाउण्ट खोलकर लाखो का लेनदेन करने वाली गैंग का पर्दाफाश

मंदसौर/संदीप गुप्ता:- पुलिस अधीक्षक मंदसौर अनुराग सुजानिया द्वारा जिले में अपराध एवं अपराधियों पर नियंत्रण हेतु प्रभावी कार्यवाही किये जाने सम्बंधी निर्देश दिये गये थे। प्राप्त निर्देशों के तारतम्य में गोतम सोलंकी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मंदसौर एवं सतनाम सिंह नगर पुलिस अधीक्षक मंदसौर के मार्गदर्शन में पुलिस थाना कोतवाली द्वारा दिनांक 23 जून 2022 को प्राप्त रिपोर्ट अनुसार कार्यवाही करते हुए आरोपी शुभम उर्फ पीयूष पिता राजेन्द्र शर्मा उम्र 23 साल निवासी झण्डा गली नारायणगढ जिला मंदसौर को पकडा जाकर आरोपी के कब्जे से फर्जी तरीके से हासिल किये गये 11 एटीएम एक आधार कार्ड एक पेन कार्ड एक चेक बुक एक मोबाईल फोन जब्त किया गया।
 
पुलिस थाना कोतवाली मंदसौर पर फरियादी सिद्धार्थ पिता बंशीलाल राठोर 23 साल निवासी श्रीनाथ विहार नरसिंहघाट मंदसौर के द्वारा रिपोर्ट किया कि फरियादी के दोस्त यश मकवाना, मोहम्मद आमिर एवं शुभम शर्मा जो कि इण्डसइण्डिया बैंक लिमिटेड मंदसौर ब्रांच में नोकरी करते है। इन तीनो के द्वारा फरियादी को बताया गया कि इस बैंक में आपका खाता खुलवाओ तो आपको कमीशन दिया जावेगा इसी बात को लेकर उपरोक्त तीनो ने फरियादी आधार कार्ड, पेन कार्ड ओर वोटर आईडी तथा एक चालु खाता की चेक बुक लेकर फरियादी का खाता उपरोक्त बैंक में खुलवाया गया तथा उसमें 21000 रूपये आरोपियों ने डालकर बैंक खाता खुलवाया। फरियादी द्वारा बैंक खाते का एटीएम एवं चेक बुक तथा पेन कार्ड मांगे जाने पर टालमटोल करते रहे इस पर फरियादी को शंका होने पर फरियादी द्वारा मोबाईल पर अपनी ईमेल आईडी खोलकर चेक किया तो अपने खाते में लाखो रूपये का लेनदेन होना पाया आरोपी यश मकवाना, मोहम्मद आमिर तथा शुभम  से चर्चा की तथा अपने असल दस्तावेज चाहे गये और अपना अकाउण्ट नम्बर और चेक बुक चाही गई तो देने से मना कर दिया व टालमटोल करते रहे व असल दस्तावेज देने से मना कर दिया। इसी बात को लेकर फरियादी द्वारा एक लेखीय आवेदन पत्र थाना कोतवाली पर दिया गया जिसकी जांच में पाया गया कि फरियादी के अकाउण्ट में लाखो रूपए जमा होकर लाखो रूपए निकाले गये है। जबकि फरियादी को अपने अकाउण्ट के बारे में कोई जानकारी नही होना बताया गया है, इस पर आरोपी यश मकवाना, मोहम्मद आमिर एव शुभमशर्मा के खिलाफ धारा 420 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर दिनांक 23 जून 2022 को आरोपी शुभम शर्मा निवासी नारायणगढ जिला मंदसौर को गिरफ्तार किया जाकर पूछताछ करते बताया अपने साथी आरोपीयों के साथ परिचित लोगों के बैंक खाते खुलवाकर इनमें अवैध तरीके से लेनदेन करवाकर कमीशन प्राप्त करते है। आरोपीगणों के द्वारा किन किन व्यक्तियों का लेनदेन फरियादी एवं अन्य खातों में करवाया गया है जिसकी जानकारी प्राप्त की जा रही है। वही सामान्य परिस्थिति के लोगों को बहला कर उनके खातों में अवैध रूप से लाखों रुपए का लेनदेन किए गया है जो टैक्स चोरी के, क्रिकेट के सट्टे के किसी गिरोह का पैसा हो सकता है तथा हवाला कारोबार की आशंका भी संभावित है जिसके सम्बंध में अनुसंधान किया जा रहा है।

गिरफ्तार आरोपी का नाम : शुभम पिता राजेन्द्र शर्मा उम्र 23 साल मंदसौर।
फरार आरोपी: यश पिता मदनलाल मकवाना निवासी रामटेकरी मंदसौर, मोहम्मद आमिर पिता शाकिर मोहम्मद मंदसौर निवासी किला रोड मंदसौर।
जप्तशुदा मश्रुका: एटीएम कुल-11, आधारकार्ड-1, पेनकार्ड-1, चेकबुक-1, मोबाईल फोन-1
पुलिस टीम: निरीक्षक अमित सोनी थाना प्रभारी कोतवाली मंदसौर एवं टीम में मोहम्मद साजिद खान, विनोद नामदेव अमित मिश्रा (जिविशा) आरक्षक मनीष शर्मा आरक्षक जितेन्द्र टांक आरक्षक भानु प्रतापसिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

बस तैयार होने वाला है विश्व का सबसे ऊंचा पुल.., जानिए क्या है चेनाब पर बन रहे इस ब्रिज की खासियत

बड़ी दुर्घटना पर भी चैन की नींद सो रहे शिवराज!

1 जुलाई तक रद्द रहेगी ये ट्रेन, सफर करने से पहले देख ले सूची

Most Popular

- Sponsored Advert -