संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगांठ पर चीन के पीएम ने कही ये बात

चीनी नेता ने संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगांठ पर अपना भाषण दिया। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन के दौरान उन देशों को सुनिश्चित किया कि चीन की शीत युद्ध लड़ने की कोई योजना नहीं है या किसी भी देश के साथ गर्म है। अपने देश को बचाते हुए चीनी नेता ने कहा, चीन का किसी भी देश के साथ या तो शीत युद्ध या गर्म से लड़ने का कोई इरादा नहीं है। नेता ने ' सभ्यताओं के टकराव ' के खतरों के खिलाफ राष्ट्रों से भी आग्रह किया। विश्व नेताओं की आभासी बैठक में शी ने देशों से अनुरोध किया कि वे ' कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई का राजनीति करण न करें '।

राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि ' चीन वैश्विक कल्याण के लिए कोविड-19 के लिए टीके उपलब्ध कराएगा। उन्होंने यह भी कहा कि चीन द्वारा उत्पादित कई कोविड-19 टीके पहले से ही चरण तीन के नैदानिक परीक्षणों में हैं। उन्होंने कहा कि विकासशील देशों को प्राथमिकता के आधार पर टीके दिए जाएंगे। दुनिया को एकपक्षीयता और संरक्षणवाद को नहीं कहना चाहिए, विश्व व्यापार संगठन को वैश्विक व्यापार की आधारशिला होनी चाहिए। राष्ट्रपति ने आग्रह किया, ' कोविड-19 महामारी का राजनीतिकरण करने के किसी भी प्रयास को अस्वीकार किया जाना चाहिए। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने संयुक्त राष्ट्र से कहा, दुनिया को कोविड-19 वायरस का मुकाबला करने में विज्ञान के मार्गदर्शन का पालन करना चाहिए। स्वाभाविक है कि देशों में मतभेद हों लेकिन उन्हें बातचीत के जरिए संबोधित करना चाहिए।

शी ने UNGA मीट में विश्व नेताओं से आग्रह किया,' दुनिया को कोरोनावायरस महामारी को हरा करने के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया में विश्व प्रमुख संगठन (डब्ल्यूएचओ) को अग्रणी भूमिका देनी चाहिए। हमें कोरोनावायरस पर एकजुटता बढ़ानी चाहिए। कोविड-19 आखिरी वैश्विक संकट नहीं होगा, इसलिए हमें हाथ मिलाना होगा। चीन अधिक जोरदार नीतियां और उपाय अपनाकर अपनी पेरिस जलवायु प्रतिज्ञा को मजबूत करेगा। UNGA के पहले आभासी बैठक में, चीन 2030 से पहले CO2 उत्सर्जन पीक प्राप्त करने का वादा किया, 2060 से पहले कार्बन तटस्थत करना है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने महामारी की द्वितीय विश्वयुद्ध से की तुलना

बड़ी खबर: अब अमेरिका में रुकेगा चीनी वस्तुओं का व्यापार

संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख ने कोरोना वैक्सीन के मुद्दे पर इन देशों की आलोचना की

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -