एनकाउंटर में ढेर हुआ जैश का टॉप कमांडर शाम सोफी

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में दहशतगर्दो की तरफ से नागरिकों एवं फिर जवानों पर घात लगाकर हमला किए जाने के मामलों का सुरक्षा बलों ने बदला लेना आरम्भ कर दिया है। बुधवार को सुरक्षा बलों ने त्राल में हुए एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद के टॉप कमांडर शाम सोफी को ढेर कर दिया। जम्मू-कश्मीर पुलिस की तरफ से सोफी को मार गिराए जाने की खबर दी गई है। यही नहीं अब भी दहशतगर्दो से मुठभेड़ जारी है।

वही दूसरी तरफ पकड़े गए आतंकी अशरफ ने दिल्ली पुलिस की विशेष सेल के समक्ष बड़े खुलासे किए है। सूत्रों के अनुसार, वर्ष 2011 में उच्च न्यायालय के बाहर जो ब्लास्ट हुए थे, उस के चलते अशरफ ने उच्च न्यायालय की रेकी की थी। ब्लास्ट में सम्मिलित एक संदिग्ध की तस्वीर दिखाई गई, तो अशरफ ने कहा इसने रेकी की थी। हालांकि संदिग्ध उस ब्लास्ट में सम्मिलित था या नही ये अभी पूछताछ में स्पष्ट होगा अब तक इस प्रकार के सबूत फिलहाल नहीं प्राप्त हुए है।

वही इसके अतिरिक्त 2011 के आसपास अशरफ ने आईटीओ स्थित पुलिस हेडक्वाटर ( पुराना पुलिस हेडक्वाटर ) की रेकी की थी। आतंकी ने कहा कि कई बार रेकी की मगर अधिक खबर नहीं प्राप्त हो पाई, क्योकि पुलिस हेडक्वाटर के बाहर व्यक्तियों को रुकने नहीं देते थे। इसी के साथ आईएसबीटी की रेकी करके भी अशरफ ने जानकारिया पाकिस्तान के हैंडलर्स को भेजी थी। अशरफ दिल्ली के या किसी और ब्लास्ट में सम्मिलित रहा है, इसको लेकर जांच एजेंसियां इससे पूछताछ कर रही है। मोहम्मद अशरफ ने पूछताछ में कहा कि उसने इंडिया गेट तथा लाल किले की भी रेकी की थी। पूछताछ में अशरफ ने लगभग ऐसी 10 स्थानों की रेकी करने की बात स्वीकार की है। 

अरविद केजरीवाल ने पंजाब में 'लालफीताशाही' और 'इंस्पेक्टर राज' समाप्त करने का किया वादा

जालंधर में बोले केजरीवाल- ‘एक बार आम आदमी पार्टी को मौका देकर देखिए, आप सबको भूल जाएंगे’

शरद पवार ने कहा- "विपक्ष को निशाना बनाने के लिए सीबीआई, ईडी और एनसीबी..."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -