राज्यसभा सांसद मदन लाल सैनी ने AIMS में ली आखिरी सांस, सदन में रखा गया मौन

राज्यसभा सांसद मदन लाल सैनी ने AIMS में ली आखिरी सांस, सदन में रखा गया मौन

नई दिल्ली: दिवंगत सदस्य मदन लाल सैनी के सम्मान में राज्यसभा की बैठक को दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राजस्थान इकाई के प्रमुख 75 वर्षीय सैनी का कल शाम यहां स्थित अखिल भारतीय चिकित्सा आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में देहांत हो गया था. सभापति एम वेंकैया नायडू ने राज्य सभा की बैठक आरंभ होने पर बताया कि ल्यूकेमिया से पीड़ित सैनी का जयपुर में उपचार चला और शनिवार को उन्हें दिल्ली लाया गया था.

नायडू ने कहा कि मदन लाल सैनी को एम्स के हीमेटोलॉजी विभाग में जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया था. कल शाम उन्होंने अंतिम सांस ली.नायडू ने कहा कि राजस्थान के सीकर में जुलाई 1943 को जन्मे सैनी ने अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद 1972 से 1975 तक वकालत का काम किया और इसके बाद भारतीय मजदूर संघ से जुड़ गए. मजदूरों के अधिकारों के लिए कार्य करते हुए सैनी कई मजदूर संघों से जुड़े रहे. 

राजस्थान विधानसभा के सदस्य रहे सैनी को गत वर्ष भाजपा की प्रदेश इकाई का अध्यक्ष बनाया गया था. अप्रैल 2018 को राज्य सभा के लिए चुने गए सैनी राज्यसभा में राजस्थान का प्रतिनिधित्व कर रहे थे. नायडू ने कहा है कि सैनी के देहांत से देश ने एक श्रेष्ठ सांसद और वंचित वर्गों का एक हितैषी खो दिया है. सदन में उपस्थित सदस्यों ने सैनी के सम्मान में कुछ पलों का मौन रखा.

हेलीकाप्टर घोटाला: राजीव सक्सेना ने मांगी विदेश जाने की अनुमति, अदालत ने कहा- जमा करो 10 करोड़

डूबते पाकिस्तान को क़तर का सहारा, करेगा 3 अरब डॉलर का नया निवेश

मध्य प्रदेश में बिजली कटौती से परेशान जनता, भाजयुमो ने कमलनाथ को भेजी लालटेन