औरतो को नुमाइश करने वाली मशीन समझा जाता है : स्वेता

Mar 16 2015 02:37 AM
औरतो को नुमाइश करने वाली मशीन समझा जाता है : स्वेता
कंट्रोवर्सल शो बिग बॉस 4 की विनर रही, 'कसौटी जिंदगी' फेम श्वेता तिवारी ने हिन्दी और भोजपुरी सिनेमा में भी अपनी पहचान बनाई है. स्वेता एक बार फिर चैनल एंड टीवी पर बेगुसराय नामक सीरियल से छोटे पर्दे पर छाने को तैयार है. हाल ही में दिए गए अपने इंटरवियू में उन्होंने भोजपुरी फिल्में छोड़ने का कारण बताया. श्वेता ने कहा, 'मुझे यह कहते बहुत दु:ख हो रहा है कि भोजपुरी सिनेमा में औरतों को नुमाइश करने वाली मशीन के रूप में देखा जाता है. 

 सिनेमा बनाने वालों को दिमाग बदलने की जरूरत है. भोजपुरी भाषा के बारे में श्वेता बोलती है की 'भोजपुरी भाषा डबल मीनिंग वाली कतई नहीं है. उसे केवल सिनेमा और एलबम बनाने वालों ने डबल मीनिंग वाला बना दिया है. यही वजह है कि लोग इसे केवल डबल मीनिंग भाषा समझने लगे हैं.