आखिर कौन है Indigo की सबसे बड़ी शेयरहोल्डर

दुनिया की दिग्गज वाहन सेवा कंपनी Indigo Airlines की सबसे बड़ी शेयरहोल्डर इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज ने शुक्रवार को कहा कि उसने वर्जिन ऑस्ट्रेलिया की बिक्री में भाग लेने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. यह समझौता ऑस्ट्रेलियाई विमानन कंपनी की ओर से कोरोना वायरस महामारी के चलते दिवालिया होने की घोषणा के तीन सप्ताह बाद हुआ. 

जानिए कैसे हो रही UPI धोखाधड़ी

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि अरबपति राहुल भाटिया के स्वामित्व वाली इंटरग्लोब की इंडिगो में 37.87 फीसद हिस्सेदारी है, जबकि भारत की इस एयरलाइन में राकेश गंगवाल, उनके परिवार के सदस्यों और उनके परिवारिक ट्रस्ट की 36.64 फीसद हिस्सेदारी है. बता दें कि वर्जिन ऑस्ट्रेलिया के 21 अप्रैल को बंद होने से 16,000 लोगों की नौकरी खतरे में पड़ गई.

ग्राहकों के पास पहुंचने वाला है रिटेल बाजार, जानें कैसे 

अगर आपको नही पता तो बता दे कि वर्जिन ऑस्ट्रेलिया ऑस्ट्रेलिया की दूसरी सबसे बड़ी विमानन कंपनी है. इसने कर्ज संकट के चलते अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत करने के लिए दिवाला प्रक्रिया के तहत सुरक्षा मांगा था और इस संबंध में लेखा फर्म डेलॉयट को दिवाला प्रशासक के रूप में नियुक्त किया था. इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज ने कहा, 'वर्जिन ऑस्ट्रेलिया के संबंध में, इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज ने बिक्री प्रक्रिया में भाग लेने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं और हम उस समझौते की गोपनीयता संबंधी आवश्यकताओं से बंधे हैं. इसलिए हम इस समय आगे कुछ भी नहीं कह सकते.'

आर्थिक पैकेज के बाद भी शेयर बाजार में सुधार नहीं, 200 अंक टूटा सेंसेक्स

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने जारी किए बाजार मूल्यांकन के आंकड़े

जानिए क्या है ईपीएफ में कटौती ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -