गिरफ्तार हुआ RJD नेता का बेटा, DSP से जुड़ा है मामला

गिरफ्तार हुआ RJD नेता का बेटा, DSP से जुड़ा है मामला
Share:

पटना: बिहार की राजधानी पटना में राजद के पूर्व MLC अनवर अहमद के बेटे अशरफ अहमद को DSP से दबंगई एवं बदसलूकी करने के मामले में पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया है। उनके पिता अनवर अहमद को भी थाने में बैठाकर रखा गया है। अब इस मामले में पीरबहोर थाना के SHO सबिउल हक़ ने पूरे घटनाक्रम की खबर दी है। DSP से बदसलूकी को लेकर पीरबहोर थाना के SHO ने कहा, 'एक दिन पहले पुलिस के साथ मारपीट की जो घटना हुई थी उसको लेकर तहकीकात के लिए वरिष्ठ अफसर आए हुए थे। घटनास्थल का निरीक्षण के पश्चात् जहां घटना घटी थी, वहां के एक दुकानदार को पूछताछ के लिए लाया गया था। 

SHO के अनुसार, वार्ड पार्षद अशरफ अहमद आए एवं उसे छोड़ने के लिए दबाव बनाने लगे। इसी बात को लेकर DSP से बहस एवं दुर्व्यवहार करने लगे। ऑन ड्यूटी अधिकारी के साथ थाने के अंदर बहुत गलत शब्दों का उपयोग किया गया तत्पश्चात, उन्हें हिरासत में लिया गया है। SHO ने बताया कि पूर्व एमएलसी अनवर अहमद ने भी पुलिस को धमकी देते हुए बोला था कि वो लोगों को बुलाएंगे और हंगामा करेंगे। 

वही एक दिन पहले के घटनाक्रम की खबर देते हुए SHO सबिउल हक़ ने बताया कि पिछले दिनों एक वीडियो वायरल हुआ था। पुलिस इस वायरल वीडियो पर बीते 10 दिनों से काम कर रही थी। बृहस्पतिवार को जब पुलिस इस मामले में अपराधियों को पकड़ने के लिए पटना मार्केट के मीना बाजार गई थी। तब वहां कुछ लोग भूजा खा रहे थे। SHO ने कहा, 'वहां कुछ नहीं मिला किन्तु पुलिस जैसे ही पटना मार्केट के गेट पर पहुंची 4 लोग हमें देख कर भागने लगे। पुलिस ने उनमें से 2 को पकड़ लिया। इसी बीच सिया मस्जिद के समीप लोगों की बैठक होनी थी। उन्हीं लोगों ने सिपाहियों पर हमला करके पकड़े गए अपराधियों को छुड़ा लिया एवं इस के चलते एक सिपाही को बुरी तरह से पीट दिया।' पीरबहोर थाना के SHO सबिउल हक़ ने आगे बताया कि पुलिस फिर आई एवं उस अपराधी को पकड़ लिया जिसने सिपाही को पीटा था। उन्होंने कहा, फिर कुछ लोग थाने पर आकर उसे छुड़ाने लगे। 50-60 के आँकड़े में आए लोग दबाव बनाने लगे कि पकड़ा गया व्यक्ति मासूम है। SHO ने कहा, पुलिस की ओर से उन्हें बताया गया कि यदि वो मासूम है तो उसे छोड़ दिया जाएगा, किन्तु इस प्रकार से थाने पर आना उचित नहीं था। सिपाही का बयान लेकर आगे की कार्रवाई की जा रही है तथा FIR भी दर्ज की गई है।

कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव की 'निष्पक्षता' पर पार्टी के सांसदों को ही भरोसा नहीं !

गणेश विसर्जन के दौरान हादसे, यूपी-हरियाणा में डूबने से 11 लोगों की मौत

झाँसी: संदिग्ध हालत में डिप्टी कमिश्नर के बेटे की मौत

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -