+

जियो के आईयूसी प्लान दूसरी कंपनियों से नहीं है अलग, जानिए ख़ास बातें

जियो के आईयूसी प्लान दूसरी कंपनियों से नहीं है अलग, जानिए ख़ास बातें

भारत की दिग्गज टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो ने बीते महीने आईयूसी चार्ज लागू किए थे। इसके बाद से ही कंपनी नए प्लान्स भी बाजार में उतारे हैं। इसके अलावा, दूसरी तरफ अन्य कंपनियों ने भी जियो को टक्कर देने के लिए मिनिमम और कॉम्बो प्लान पेश किए हैं। परन्तु अब भी कई उपभोक्ता  को जियो और अन्य कंपनियों के प्लान्स की तुलना करने में दिक्कत आ रही है। 

आईयूसी और मिनिमम रिचार्ज प्लान में अंतर - जानकारी के लिए बता दें कि बीते साल एयरटेल और वोडाफोन जैसी कंपनियों ने उपभोक्ता के लिए मिनिमम रिचार्ज प्लान्स पेश किए थे, जिनके जरिए समान रेवेन्यू के साथ उपभोक्ता को जोड़ने की कोशिश की गई थी। इसके अलावा, उपभोक्ता ने इन रिचार्ज पैक्स का जमकर विरोध भी किया था। मिनिमम रिचार्ज प्लान में उपभोक्ता अपने हिसाब से वॉयस कॉलिंग और वैधता को बढ़ा सकते हैं। तो दूसरी तरफ आईयूसी प्लान्स में उपभोक्ता को तय समय सीमा के साथ अन्य नेटवर्क पर कॉल करने के लिए मिनट मिलते हैं।

दोनों कंपनियों के प्लान में ज्यादा नहीं है अंतर - एयरटेल और वोडाफोन के मिनिमम रिचार्ज प्लान की शुरुआत 35 रुपये से होती है, तो दूसरी तरफ आईयूसी वाले पैक की शुरुआती कीमत दस रुपये है। इसके अलावा, रिलायंस जियो का सबसे महंगा प्लान 1000 रुपये का है। उपभोक्ता मिनिमम प्लान के मुकाबले जियो के पैक चुन सकते हैं, क्योंकि इनकी कीमत कम है।

कॉम्बो प्लान्स है बेस्ट - कंपनियों ने अपने साथ ज्यादा-से-ज्यादा उपभोक्ता जोड़ने के लिए किफायती कीमत वाले कॉम्बो प्लान्स उतारे हैं। इसके साथ ही उपभोक्ता को इन कॉम्बो पैक्स में डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग सुविधा मिलती है। इसके अलावा, इन प्लान्स के सब्सक्राइबर्स की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। बेहतर होगा कि उपभोक्ता अपनी जरूरत के हिसाब से जियो ऑल-इन-वन और कॉम्बो प्लान्स में से किसी एक को चुन सकते हैं।

दुनिया की पहली डिजिटल ड्रेस, कीमत इतनी कि चाह कर भी छू नहीं पाएंगे आप

Redmi K30 5G कई धमाकेदार फीचर से होगा लैस, पावरफुल प्रोसेसेर होगा आक​र्षण का केन्द्र

बीएसएनएल दे रहा है 420 gb डाटा, इस प्रकार उठाये फायदा