अवश्य ख़त्म होगी धारा 370, जरुरत पड़ी तो अलगाववादियों पर होगी कड़ी कार्यवाही - राजनाथ सिंह

अवश्य ख़त्म होगी धारा 370, जरुरत पड़ी तो अलगाववादियों पर होगी कड़ी कार्यवाही - राजनाथ सिंह

श्रीनगर: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा अपने 'संकल्प पत्र' में धारा 370 और अनुच्छेद 35ए को समाप्त करने के ऐलान को लेकर राजनीति गरमाई हुई है। भाजपा की इस घोषणा पर जहां नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने कश्मीर को भारत से पृथक होने की चेतावनी दी है,  वहीं पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) नेता महबूबा ने कहा है कि इस तरह का कदम उठाया गया तो कश्मीर के साथ पूरा देश जलेगा।

यूपी के डिप्टी सीएम बोले, चुनाव के बाद मायावती को धोखा देंगे अखिलेश, भाजपा ही बचाएगी

इसी बीच केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा है कि संविधान की धारा 370 और अनुच्छेद 35ए को समाप्त करने के अलावा सरकार के पास कोई अन्य विकल्प नहीं बचा है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि, 'यह इसलिए आवश्यक है क्योंकि जम्मू एवं कश्मीर के कुछ लोग घाटी के लिए एक अलग पीएम की मांग कर रहे हैं।' राजनाथ सिंह ने रणबीर सिंह पुरा में एक चुनावी रैली में कहा है कि, 'एक नेता कहते हैं कि यदि जम्मू एवं कश्मीर में यही हालात जारी रह, तो देश में दो प्रधानमंत्री होंगे।

अहंकार से भरा हुआ है भाजपा का घोषणापत्र, मात्र एक आदमी की सोच का नतीजा - राहुल गाँधी

राजनाथ सिंह ने कहा है कि यदि कोई दो प्रधानमंत्रियों के बारे में बात करता है, तो हमारे पास भी धारा 370 और अनुच्छेद 35ए को समाप्त करने के सिवा कोई दूसरा विकल्प नहीं है।' राजनाथ ने कहा है कि उन्होंने गृहमंत्री के रूप में कश्मीर के लोगों से वार्तालाप करने का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया, किन्तु सारे प्रयास असफल सिद्ध हुए। उन्होंने कहा है कि, 'मैं अलगाववादियों से भी वार्तालाप करने को तैयार था। लेकिन अब बहुत हो चुका है।'

खबरें और भी:-

गाँधीनगर लोकसभा सीट: गुलबर्ग सोसायटी दंगा के पीड़ित फिरोज खान, देंगे अमित शाह को टक्कर

असम: बीफ बेचने के आरोप में मुस्लिम शख्स को भीड़ ने घेरा और फिर...

अदालत से आज़म खान को बड़ी राहत, शस्त्र लाइसेंस के निलंबन के आदेश का एक हिस्सा हुआ रद्द