हमें ड्रोन टेक्नोलॉजी में अग्रणी देश बनना है: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के 82वें संस्करण के तहत राष्ट्र को संबोधित कर रहे हैं। अपने संबोधन की शुरुआत उन्होंने स्वास्थ्यकर्मी के बारे में बात करते हुए कही। उन्होंने कहा, 'मैं अपने देश और अपने देश के लोगों की क्षमताओं से भली-भांति परिचित हूँ। मैं जानता हूँ कि स्वास्थ्यकर्मी देशवासियों के टीकाकरण में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगे।'

इसी के साथ उन्होंने कहा- 'हम सभी का दायित्व है कि हम एकता का संदेश देने वाली किसी-ना-किसी गतिविधि से जरुर जुड़ें। सरदार साहब कहते थे कि, हम अपने एकजुट उद्यम से ही देश को नई महान ऊंचाईयों तक पहुंचा सकते हैं। अगर हममें एकता नहीं हुई तो हम खुद को नई-नई विपदाओं में फंसा देंगे। यानी राष्ट्रीय एकता है तो ऊंचाई है, विकास है। हमारी आजादी का आंदोलन तो इसका सबसे बड़ा उदाहरण है।' आगे उन्होंने कहा- '24 अक्टूबर को संयुक्त राष्ट्र दिवस मनाया जाता है। आज ही के दिन यूएन का गठन किया था। भारत ने आजादी से पहले यूएन के चार्टर पर हस्ताक्षर किए थे। भारत की नारी शक्ति ने संयुक्त राष्ट्र के प्रभाव और शक्ति को बढ़ाने में बड़ी भूमिका निभाई है। 1947-48 में जब यूएन ह्यूमन राइट्स का यूनिवर्सल डिक्लेरेशन तैयार हो रहा था। तो उस डिक्लेरेशन में लिखा जा रहा था कि ऑल मैन आर क्रिएटेड इक्वल। लेकिन भारत के एक प्रतिनिधिमंडल ने इस पर आपत्ति जताई। इसके बाद इसे ऑल ह्यूमन आर क्रिएटेड इक्वल लिखा गया।'

इसी के साथ उन्होंने कहा- 'भारत ने हमेशा विश्व शांति के लिए काम किया है। यह संयुक्त राष्ट्र शांति सेना में हमारे योगदान में देखा जाता है। भारत योग और स्वास्थ्य के पारंपरिक तरीकों को और अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए भी काम कर रहा है। हमारे ग्रह को एक बेहतर जगह बनाने में भारत अहम भूमिका निभाएगा। एक धरती को एक बेहतर और सुरक्षित प्लानेट बनाने में भारत का योगदान विश्वभर के लिए बहुत बड़ी प्रेरणा है। हमें इस बात का गर्व है कि भारत 1950 के दशक से लगातार संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन का हिस्सा रहा है। गरीबी हटाने, जलवायु परिवर्तन और श्रमिकों से संबंधित मुद्दों के समाधान में भी भारत अग्रणी भूमिका निभा रहा है।'

आगे उन्होंने यह भी कहा- 'भारत दुनिया के उन पहले देशों में से है, जो ड्रोन की मदद से अपने गांव में जमीन के डिजिटल रिकॉर्ड तैयार कर रहा है। भारत ड्रोन का इस्तेमाल, ट्रांसपोर्टेशन के लिए करने पर बहुत व्यापक तरीके से काम कर रहा है। चाहे गांव में खेतीबाड़ी हो या घर के सामान की डिलीवरी हो। आपातकाल में मदद पहुंचानी हो या कानून व्यवस्था की निगरानी हो। हमें ड्रोन टेक्नोलॉजी में अग्रणी देश बनना है। इसके लिए सरकार हर संभव कदम उठा रही है। '

'धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा हमारी बहुत बड़ी प्रेरणा है', मन की बात में बोले PM मोदी

100 करोड़ टीकाकरण अभियान ने इतिहास रच दिया: PM मोदी

आज IIT जम्मू में रिसर्च सेंटर का उद्घाटन करेंगे गृह मंत्री अमित शाह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -