Share:
BJP के संभावित CM पर बोले प्रहलाद पटेल- 'MP में शिवराज हमारा सबसे लोकप्रिय चेहरा'
BJP के संभावित CM पर बोले प्रहलाद पटेल- 'MP में शिवराज हमारा सबसे लोकप्रिय चेहरा'

भोपाल: मध्य प्रदेश में भाजपा एवं कांग्रेस इस माह होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी हुई हैं। कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को अपना सीएम प्रत्याशी घोषित किया है। किन्तु वर्तमान सीएम शिवराज सिंह चौहान को लेकर भाजपा अभी असमंजस में है। यही कारण है कि भगवा पार्टी ने अभी तक शिवराज को अपनी मुख्यमंत्री चेहरा घोषित नहीं किया है। इस बीच, नरसिंहपुर (Narsinghpur) से भाजपा प्रत्याशी एवं केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा है कि मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह हमारे सबसे मशहूर चेहरा हैं।

मीडिया से चर्चा करते हुए प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा, "भाजपा की कार्यशैली में मुख्यमंत्री चेहरे पर कोई दुविधा नहीं होगी। भाजपा में मुख्यमंत्री पद को लेकर कभी झगड़ा नहीं होगा। यह सब सहज हो जाएगा। मैं आपसे आग्रह करूंगा कि अटकलें न लगाएं तथा 3 दिसंबर का इंतजार करें।'' पटेल एक OBC (लोधी) नेता हैं। भाजपा के बीते 3 सीएम OBC समुदाय के रहे हैं, जिनमें उमा भारती, बाबू लाल गौर तथा शिवराज सिंह चौहान सम्मिलित हैं। इससे सीएम की कुर्सी के लिए पटेल की दावेदारी मजबूत हो जाती है यदि उनकी पार्टी इस वर्ष फिर से मध्य प्रदेश जीतती है। हालांकि, पटेल ने स्वयं की जगह चौहान की सराहना की। उन्होंने कहा, "यह हमारे लिए गर्व का क्षण है कि हमने मध्य प्रदेश में इतने सारे OBC मुख्यमंत्री दिए हैं। उमा भारती, बाबू लाल गौर तथा शिवराज चौहान...। हमारी पूरी टीम में चौहान मध्य प्रदेश में जनता के बीच सबसे लोकप्रिय नेता हैं। यह विवाद से परे है।" नरसिंहपुर से अपनी उम्मीदवारी के बारे में पटेल कहते हैं, ''यह मेरा पहला विधानसभा चुनाव है।'' जब उनसे आगे पूछा गया कि क्या पार्टी अगले सीएम के रूप में किसी OBC को चुनेगी?

इस पर केंद्रीय मंत्री ने कहा, "मेरी जाति पिछड़ी है मगर मैं पिछड़ा नहीं हूं। मैं इसका फायदा नहीं उठाता। हमारे केंद्रीय नेतृत्व की रणनीति पांच प्रदेशों में सीएम चेहरे पर एक जैसी हैं। यदि मध्य प्रदेश में यह अलग होता, तो सवालिया निशान उठाया जा सकता था।" प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा, "कमलनाथ और दिग्विजय सिंह दोनों प्रदेश की राजनीति के थके हुए चेहरे हैं। कमल नाथ एक किलोमीटर भी पैदल नहीं चल सकते, एक दिन में पांच सभाएं नहीं कर सकते। वह 'थके हुए नेता' हैं। वे 6 वर्षों तक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे लेकिन किसी जिले में एक भी बैठक नहीं ली। उनका ट्रैक रिकॉर्ड बहुत खराब है। उन्होंने छिंदवाड़ा के किसी भी ग्रामीण वार्ड का दौरा नहीं किया है। हालांकि लोगों ने उन्हें 42 वर्षों तक वोट दिया है। छिंदवाड़ा में कोई नहीं कहेगा कि कमल नाथ उनके घर आए थे। वह अहंकारी और दागी है प्रदेश की जनता ने उन्हें नकार दिया है। कमल नाथ ठगराज हैं।'' पटेल का कहना है कि कमलनाथ ने पहले कहा था कि भाजपा के अंदर लड़ाई है, मगर हकीकत इससे अलग है।

पटेल ने बताया, "हम सभी ने देखा कि टिकटों का ऐलान होते ही कांग्रेस में कपड़े कैसे फाड़े जाने लगे। कमल नाथ और दिग्विजय सिंह के बीच बड़ी लड़ाई है, जो उजागर हो गया है। कमल नाथ ने कहा था कि वे महीनों पहले प्रत्याशियों का ऐलान करेंगे, लेकिन हमने देखा कि क्या हुआ।" मध्य प्रदेश में भाजपा लगभग 20 वर्षों से सत्ता में है किन्तु पटेल कहते हैं कि विकास के सामने कोई सत्ता विरोधी लहर नहीं है। पटेल ने कहा, "हमारी योजनाओं का उद्देश्य निर्धन लोगों का कल्याण करना है... कोई भी हमारी योजनाओं की आलोचना नहीं कर सकता है। हम महिला सशक्तिकरण में सबसे आगे हैं तथा हमारे पास भविष्य के लिए एक दृष्टिकोण है। हमने इसे किफायती बनाने के लिए LPG की कीमतें कम कर दी हैं। ये फ्री चीजें नहीं हैं। यह लोगों को लालच नहीं दे रहा है।"

मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस पर राज्य को मिली नई सौगात, इस शहर को यूनेस्को ने दिया ‘सिटी आफ म्यूज़िक’ का खिताब

विपक्षी नेताओं को Apple से आए अलर्ट का जॉर्ज सोरोस से है कनेक्शन! BJP का बड़ा दावा

भारत के इस मंदिर में विराजमान हैं चौथ माता, दर्शन करने से मिलता है अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -