जिस मेथेनॉल अल्कोहल को कोरोना का इलाज़ समझ पी रहे थे लोग वही बन गया उनकी मौत का कारण

जिस मेथेनॉल अल्कोहल को  कोरोना का इलाज़ समझ पी रहे थे लोग वही बन गया उनकी मौत का कारण
Share:

तेहरान: एक तरफ बढ़ रहा कोरोना का कहर अब इतना बढ़ चुका है. कि हर तरफ केवल तवाही का मंज़र देखने को मिल रहा है. जंहा अब तक इस वायरस से मरने वालों कि संख्या 2 लाख 17 हजार से अधिक हो चुकी है. वहीं अभी भी लोगों में इस वायरस का खौफ फैला हुआ है. वहीं इस बीमारी से लड़ने के लिए अब भी डॉक्टर इलाज़ खोज रहे है.  जंहा अब तक कोरोना वायरस का कोई भी इलाज सामने नहीं आया है. लेकिन इस बीच ईरान में कोरोना वायरस के अंधविश्वास ने 700 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है. यहां लोगों इस बात पर विश्वास था कि कोरोना के इलाज में अल्कोहल, खतरनाक और तेजी से फैलने वाली छूत को प्रभावी ढंग से दूर करने में मदद कर सकता है.

मिली जानकरी  के अनुसार राष्ट्रीय कोरोनर प्राधिकरण ने कहा कि अल जज़ीरा की रिपोर्ट के अनुसार, 20 फरवरी से 7 अप्रैल के बीच जहरीली शराब ने 728 लोगों की जान ले ली है.पिछले साल जहरीली शराब पीने से केवल 66 मौतें हुई थीं.

वहीं इस बात का पता चला है कि पिछले साल अप्रैल में जारी एक सरकारी रिपोर्ट के अनुसार ईरान में जहरीली शराब से मौत की घटनाओं में 10 गुना वृद्धि देखी गई है, जिसे मध्य पूर्व में महामारी के केंद्र माना गया है.ईरानी स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता किन्यौस जहानपुर ने कहा कि 5,011 लोगों ने मेथनॉल अल्कोहल पीया यह कहते हुए कि लगभग 90 लोगों की आंखों की रोशनी चली गई है या शराब के जहर से आंखों की क्षति हुई है.

इस सिटी में जी जा रही है कर्फ्यू हटाने की अपील, जाने क्या है इसका मुख्य कारण

राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को मिला हिलेरी क्लिंटन का स्पोर्ट, कही यह बात

अचानक अमेरिका ने दिखाई कड़वाहट, व्हाइट हाउस ने ट्विटर पर पीएम मोदी को किया अनफॉलो

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -