पतंजलि ने जारी किए नॉन-कन्वर्टिबल डिबेंचर, तीन मिनिट में जमा हो गए 250 करोड़

पतंजलि ने जारी किए नॉन-कन्वर्टिबल डिबेंचर, तीन मिनिट में जमा हो गए 250 करोड़

नई दिल्ली: योग गुरु बा​बा रामदेव के नेतृत्व वाले पतंजलि आयुर्वेद ने बॉन्ड मार्केट के इन्वेस्टर्स से 250 करोड़ रुपये मांगे थे. कंपनी को निवेशकों से 3 मिनट के अंदर 250 करोड़ रुपये मिल गए हैं. दरअसल, पतंजलि आयुर्वेद ने 250 करोड़ रुपये के नॉन-कन्वर्टिबल डिबेंचर (NCDs) जारी किए थे. इसे निवेशकों ने हाथोंहाथ लिया और 3 मिनट के अंदर ही कंपनी का यह डिबेंचर पूर्ण रूप से सब्सक्राइब्ड हो गया.

हरिद्वार हेडक्वार्टर वाली कंपनी पतंजलि आयुर्वेद ने पहली दफा पूंजी जुटाने के लिए बॉन्ड बाजार का सहारा लिया है. ब्रिकवर्क ने इस डिबेंचर को AA की रेटिंग दी थी जो कि अच्छी मानी जाती है. इसे शेयर बाजार में लिस्टेड किया जाएगा. इसे गुरुवार को जारी किया गया था.  उल्लेखनीय है कि हाल में रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा स्टील, HDFC बैंक, महिंद्रा ऐंड महिंद्रा जैसी कई कंपनियों ने बॉन्ड बाजार से पैसा इकठ्ठा किया है.

आपको बता दें कि नॉन-कन्वर्टिबल डिबेंचर (NCDs) एक ऐसा वित्तीय साधन है, जिसे कंपनियां लॉन्ग टर्म की पूंजी जुटाने हेतु जारी करती हैं. इसकी अवधि निर्धारित होती है, इसलिए यह एफडी जैसा होता है, किन्तु यह शेयर मार्केट में सूचीबद्ध होता है, इसलिए इससे बाहर निकलना यानी बेचना आसान होता है. इस पर ब्याज भी 10 फीसदी या उससे अधिक मिलता है. नॉन कन्वर्टिबल का मतलब यह है कि इस डिबेंचर को शेयरों में तब्दील नहीं किया जा सकता.

करीना कपूर ने की मृत अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉइड के लिए न्याय की मांग

क्या वाकई कोरोना से मरने वालों का गिर चुका है आंकड़ा ?

बारिश ने गर्मी में फैलाई ठंडक, जनता को मिली राहत