अब कोरोना की टेस्ट किट खरीदने के लिए दिखाना होगा आधार कार्ड

कोरोना और उसके नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के केस निरंतर तेजी से बढ़ रहे है. दिल्ली हो या मुंबई या फिर देश का कोई और भी शहर कोविड के नए मरीजों का आंकड़ा में रोजाना बढ़ता ही जा रहा है. हालांकि सरकार का बोलना है कि जब तक कोई गंभीर बीमारी ना हो, कोरोना से डरने की आवश्यकता नहीं है. देश में कल 16,65,404 कोरोना के टेस्ट किए गया है. अब तक 1 अरब, 56 करोड़, 76 लाख, 15 हजार से अधिक लोगों को कोरोना टीका लगाया जा चुका है.

कोरोना वायरस का टेस्ट के लिए नई-नई किट ईजाद की जा रही हैं. अब आप घर बैठे ही खुद से कोविड का टेस्ट भी कर सकते हैं. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने घर पर कोविड वायरस टेस्टिंग के लिए कोविसेल्फ नामक किट को अनुमति दी जा चुकी है. इस किट के उपरांत अब लोग महज 250 रुपये खर्च कर घर पर ही कोरोना टेस्ट कर पाएंगे. ICMR ने जांच के लिए भी एडवाइजरी जारी की है, जिसमें फिजूल जांच नहीं करने की राय दी है.

रिकॉर्ड के लिए नया नियम: कोरोना वायरस टेस्ट किट की बढ़ती मांग को देखते हुए तथा कोरोना वायरस  के केस का सही आंकड़ा पता लगाने के लिए मुंबई प्रशासन से नया फरमान भी लॉन्च कर दिया है. मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने एलान किया है कोविड टेस्ट किट खरीदने वाले लोगों को रिकॉर्ड बनाए रखने के लिए केमिस्टों को अपना आधार कार्ड प्रदान करना होगा. उसने  बोला है कि घर पर जांच के बीच यदि किसी व्यक्ति की रिपोर्ट सकरात्मक आती है तो इसकी सूचना स्वास्थ्य अधिकारियों को दी जानी चाहिए और जानकारी को ऑनलाइन भी अपडेट किया जाना चाहिए.

आज आप भी जीत सकते है अमेज़न पर हजारों रूपए का इनाम

VI को एक बार फिर से बढ़ाना चाहिए अपने प्लान का दाम, इस कंपनी ने दिया सुझाव

क्या आपका भी खो गया है पैनकार्ड तो घबराने की जरुरत नहीं

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -