विधवा बनकर नहीं रहना चाहती निर्भया गैंगरेप के इस दोषी की पत्नी, मांगा तलाक

आप सभी जानते ही हैं कि इस समय निर्भया गैंगरेप और हत्याकांड मामले को लेकर एक के बाद एक खबर आ रही है. वहीं हाल ही में इस मामले में दोषी अक्षय ठाकुर की पत्नी ने औरंगाबाद परिवार कोर्ट में तलाक की अर्जी दी है. जी हाँ, मिली जानकारी के मुताबिक़ कोर्ट में दी गई अर्जी में अक्षय की पत्नी पुनीता का कहना है कि, 'मैं उसकी विधवा के रूप में अपना जीवन नहीं जी सकती.' इसी के साथ उन्होंने कहा कि, 'उनके पति को निर्भया के दुष्कर्म के मामले में दोषी ठहराया गया है और उन्हें कोर्ट के फैसले के बाद अब फांसी दी जानी है.'

इसी के साथ आगे अक्षय ठाकुर की पत्नी का कहना है कि 'मेरे पति निर्दोष हैं, ऐसे में मैं उनकी विधवा बन कर नहीं रहना चाहती. इसलिए उसे अपने पति से तलाक चाहिए.' इसी के साथ पुनीता के वकील मुकेश कुमार सिंह के बारे में बात की जाए तो उन्होंने कहा कि, 'पीडि़त महिला को विधिक अधिकार है कि वह हिंदू विवाह अधिनियम के तहत कुछ खास मामलों में तलाक ले सकती है. उसमें दुष्कर्म का मामला भी शामिल है. अगर दुष्कर्म के मामले में किसी महिला के पति को दोषी ठहरा दिया जाता है, तो वह तलाक के लिए अर्जी दायर कर सकती है.'

आप सभी को पता ही होगा कि निर्भया गैंगरेप और हत्या कांड मामले के चारों दोषियों के फांसी में बस तीन दिन बचे हैं और इसी को मद्देनजर रखते हुए बीते बुधवार को तिहाड़ जेल में जल्लाद पवन की मौजूदगी में रिर्हसल हुई है. वहीं जल्लाद पवन ने जेल प्रशासन के अधिकारियों के सामने दोषियों के डमी को फांसी पर लटकाने का रिहर्सल किया और निर्भया गैंगरेप और हत्या कांड मामले के चारों दोषियों को 20 मार्च को फांसी होने वाली है.

ब्रिज के नीचे से बरामद हुआ महिला का शव, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका

20 घंटों में 110 लोगों ने किया रेप, 14 साल की लड़की से हैवानियत

आठ साल की मासूम से जोधपुर में दुष्कर्म, लहूलुहान स्थिति में पड़ी मिली बच्ची

Most Popular

- Sponsored Advert -