मनसुख हिरेन मर्डर केस में मास्टरमाइंड हैं एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा!

मुंबई: एंटीलिया केस और मनसुख हिरेन मर्डर केस में एनआईए ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बीते गुरुवार को सुपर कॉप प्रदीप शर्मा को गिरफ्तार किया है। जी हाँ, 112 से ज्यादा बदमाशों का एनकाउंटर करने वाले प्रदीप शर्मा अब सलाखों के पीछे हैं। वहीँ एनआई को लगता है कि प्रदीप शर्मा पर ही एंटीलिया विस्फोटक केस में मास्टरमाइंड हो सकता है। जी दरअसल एनआईए (NIA) को यह शक है कि, ''मनसुख हिरेन मर्डर केस में भी मास्टरमाइंड एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ही है।'' केवल यही नहीं बल्कि एनआईए को यह लगता है कि प्रदीप ने ही हत्यारों को कार मुहैया कराई थी। हाल ही में एनआईए ने जो जांच की है उसमे यह बात सामने आई है कि, ''जिस कार में मनसुख की हत्या की गई थी उसे प्रदीप शर्मा ने ही मुहैया कराया था।''

आपको बता दें कि पुलिस ने प्रदीप के साथ ही मनीष सोनी और सतीश त्रिभुतकर को भी गिरफ्तार किया है। बीते गुरूवार को एनआईए ने प्रदीप शर्मा के कई ठिकानों पर छापेमारी की और उसके बाद उसे हिरासत में ले लिया। वहीँ हिरासत में लेने के बाद उससे कई घंटों हुई और फिर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। अब प्रदीप, मनीष और सतीश तीनों 28 जून तक पुलिस कस्टडी में रहेंगे। एनआईए के वकील ने एक बयान में कहा कि, ''कोर्ट में पेशी के दौरान मनीष और सतीश ने खुलासा किया है कि सचिन वाजे और प्रदीप शर्मा के आदेश पर ही उन्होंने मनसुख हिरेन की हत्या की थी। इस काम के लिए उन्हें मोटी रकम मिली थी।''

इसके अलावा एनआईए को यह भी लगता है कि एंटीलिया विस्फोटक मामले का मास्टरमाइंड भी प्रदीप शर्मा ही हो सकता है। जी दरअसल एनआईने ने कोर्ट में कहा कि मनीष, सतीश ने मनसुख ही हत्या की बात कुबूल कर ली है। इसके इलेक्ट्रॉनिक सबूत भी मिले हैं। प्रदीप शर्मा के घर से मिले मोबाइल और लेपटॉप की फॉरेंसिक जांच के बाद कई बड़े खुलासे हो सकते हैं।

पीएम मोदी ने लॉन्च किया क्रैश कोर्स, फ्री ट्रेनिंग से तैयार होंगे 1 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स

बुरी खबर! ‘खतरों के खिलाड़ी 11’ में स्टंट के दौरान हुआ खतरनाक हादसा, ये स्टार हुआ घायल

मैकडॉनल्ड्स दो नए व्यापारिक संग्रह के साथ बीटीएस भोजन की सफलता को कर रहा है दोगुना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -