तलाक के 9 साल बाद महिला के घर पहुंचा शौहर, बोला- दोस्त के साथ हलाला कर मुझसे निकाह करो..

नई दिल्ली: देश में तीन तलाक के खिलाफ सख्त कानून बनने के बाद भी मुस्लिम महिलाओं पर जुल्म थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला नई दिल्ली के जामिया नगर से सामने आया है। यहाँ नौ वर्ष पूर्व तीन तलाक देकर अपनी पत्नी को छोड़ने वाला शौहर उससे दोबारा निकाह करने के लिए अपने दोस्त को लेकर उसके घर पहुँच गया। आरोपित शौहर ने महिला को धमकी दी कि यदि उसने उसके दोस्त के साथ हलाला और उससे दोबारा निकाह नहीं किया तो वह उसे जान से मार देगा।

जामिया नगर थाना पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपित के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है। पीड़िता ने बताया कि, आरोपित रियाजुद्दीन खान, असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM का उत्तर प्रदेश में सचिव है। पीड़िता ने अपनी शिकायत में यह भी बताया कि रियाजुद्दीन ने खुद को तलाकशुदा बताकर जनवरी 2012 में उसके साथ निकाह किया था। बाद में महिला को पता चला कि वह तलाकशुदा नहीं है और उसकी पहले से एक बीवी है। पीड़िता ने आरोप लगाते हुए कहा कि वह अपनी पहली पत्नी के साथ मिलकर उसे परेशान करता था। इसी बीच महिला ने एक पुत्र को भी जन्म दिया। वर्ष 2012 के अंत में आरोपित ने पीड़िता को तीन तलाक देकर छोड़ दिया।

महिला ने बताया कि '9 साल बाद 19 अगस्त 2021 की रात को वह अपने एक दोस्त के साथ मेरे घर पहुंचा और कहा कि  उसके दोस्त के साथ हलाला करके दोबारा उसके साथ निकाह कर लूँ।  जब मैंने उसे ऐसा करने से मना कर दिया तो उसने मेरे साथ जबरदस्ती की, मेरे कपड़े फाड़ दिए और मुझे पीटा भी। शोरगुल सुनकर पड़ोसी बाहर आने लगे, जिसके बाद दोनों फरार हो गए। रिपोर्ट में बताया गया है कि पीड़िता ने बहु विवाह व निकाह हलाला को गैरकानूनी करार देने के लिए 26 मार्च 2018 को शीर्ष अदालत में जनहित याचिका दायर की थी। इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट में अभी भी सुनवाई चल रही है।

2 साल से अपनी ही 13 वर्षीय बच्ची की अस्मत लूट रहा था कलयुगी पिता, देता था जान से मारने की धमकी

बेटे के प्रेम विवाह से नाराज थी माँ, गर्भवती बहू को कुल्हाड़ी से काटकर उतारी भड़ास

3 साल की बच्ची का दुष्कर्म के बाद क़त्ल, फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट ने आरोपी को सुनाई सजा-ए-मौत

Most Popular

- Sponsored Advert -