कर्नाटक : बन्नेरघट्टा बायोलॉजिकल पार्क में हाथियों का आंकड़ा बढ़ा, हथिनी ने दिया बच्चे को जन्म

Aug 02 2020 02:52 PM
कर्नाटक : बन्नेरघट्टा बायोलॉजिकल पार्क में हाथियों का आंकड़ा बढ़ा, हथिनी ने दिया बच्चे को जन्म

बेंगलुरु: कर्नाटक के बन्नेरघट्टा बायोलॉजिकल पार्क में शनिवार को बारह वर्षीय हथिनी रूपा ने एक नर हाथी के बच्चे को जन्म दिया है. बीबीपीपी के कार्यकारी निदेशक ने इस बारें में बोला कि मां और बछड़ा दोनों हेल्थी हैं और अच्छा कार्य कर रहे हैं. कार्यकारी निदेशक ने बोला, "यह रूपा द्वारा दिया गया दूसरा बच्चा था, उसने साल 2016 में 8 वर्ष की उम्र में एक मादा बच्चे को पैदा किया था. " इस बछड़े के साथ, मौजूदा हाथी की आबादी बीबीपी पार्क में चौबीस है.

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु के पास बन्नेरघट्टा नेशनल उद्यान, साल1970 में स्थापित किया गया था और साल 1974 में इसे नेशनल उद्यान एलान कर दिया गया था. पार्क में चिड़ियाघर के साथ एक पालतू कोने, एक पशु बचाव सेंटर, एक तितली परिक्षेत्र, एक मछलीघर, एक सांप घर और एक सफारी पार्क के साथ एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल भी है. 

जानकारी के लिए बता दें कि भारत में बीते दिनों एक गर्भवती हथिनी को पटाखों से भरा अनानास खिलाने के केस के बाद जानवरों के प्रति अमानवीय व्यवहार को लेकर सरकार चौकन्ना भी हुई है. इंटरनेट पर इस घटना को लेकर लोगों ने अपना खूब आक्रोश जताया था और आरोपितों को सजा दिलाने की मांग की थी. इसके बाद इस केस में आरोपितों को गिरफ्तार भी किया था.  केरल की यह घटना मीडिया में सामने आने के बाद भारत के हर कोने-कोने से जानवरों के साथ अमानवीय व्यवहार की घटनाएं लगातार सामने आने लगी. अभी भी निरंतर इस प्रकार कि खबरें भारत के किसी ना किसी प्रदेश से सामने आती रहती है.

विलफोर्ड ब्रिमली ने 85 वर्ष की उम्र में दुनिया को कहा अलविदा, किडनी की बीमारी से थे पीड़ित

नेहा शर्मा संग सिद्धार्थ के काम करने पर शहनाज का आया ऐसा रिएक्शन

बिहार में बदतर हुए हाल कोरोना के साथ तेज हुई बाढ़ की मार, क्या टल जाएंगे चुनाव