जवानों के बीच पहुंचकर खुद को नहीं रोक सके PM मोदी

Jan 16 2016 10:26 AM
जवानों के बीच पहुंचकर खुद को नहीं रोक सके PM मोदी

नई दिल्ली : पठानकोट में हुए हमले को लेकर चलाए गए सैन्य अभियान के सफल होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुरक्षा बलों और सुरक्षा एजेंसियों की जमकर प्रशंसा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को सेना के अधिकारियों के साथ उत्साह के साथ झूमे। उन्होंने सैन्य जवानों के साथ मेल-मुलाकात की और भोजन भी किया। इस दौरान उनकी भेंट पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से भी हुई। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजनीतिक भेद भूल गए।

उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ गर्मजोशी के साथ अच्छा व्यवहार किया। दरअसल सेना दिवस के अवसर पर ऐट होम कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैन्य कर्मियों का हौसला बढ़ाया गया। कार्यक्रम में औपचारिक व्यवहार पूर्ण होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी सीट से उठे और उन्होंने सैन्यकर्मियों से भेंट की। वे काफी देर तक अधिकारियों और जवानों के साथ घूमते रहे।

उन्होंने सैन्यकर्मियों का अभिवादन स्वीकार किया और अनौपचारिक चर्चा की। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन हिसं के समीप पहुंचकर उनसे देर तक चर्चा भी की। इस कार्यक्रम में तीनों सेनाओं के सर्वोच्च सेनापति राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और तीनों सेनाओं के प्रमुख उपस्थित थे। 

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भेंट कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद से भी हुई। सेना के अब तक के सैन्य और नागरिक अभियान के बारे में रोचक फिल्म दिखाई गई। साथ ही मिसाईल और अन्य तकनीक का प्रदर्शन भी किया गया।