अमेरिका संसद में मुस्लिम महिलाओं का प्रवेश, ट्रम्प के लिए खड़ी कर सकता है मुश्किलें

Nov 09 2018 11:47 AM
अमेरिका संसद में मुस्लिम महिलाओं का प्रवेश, ट्रम्प के लिए खड़ी कर सकता है मुश्किलें

वाशिंगटन: अमरीका के इस बार के मध्यावधि चुनावों में कई कीर्तिमान बने,  एक तो इन चुनावों में पहली बार बड़ी संख्या में मतदातों ने वोट डाले, दूसरा किसी राष्ट्रपति को सीनेट में बहुमत मिला, तीसरा और सबसे शानदार रिकॉर्ड यह रहा कि दो मुस्लिम महिलाओं को कांग्रेस में जगह मिल गई है. इल्हान उमर ने मिन्नेसोटा की पांचवी कांग्रेसनल डिस्ट्रिक से और राशिदा तालिब ने मिशीगन की 13 वीं कांग्रेसनल डिस्ट्रिक सीट से जीत दर्ज की है,  ये दोनों महिलाएं अमेरिकी कांग्रेस के लिए चुनी गई हैं.

नार्वे में आया इतिहास एक सबसे तीव्र भूकंप, झटकों से दहल गए लोग

उल्लेखनीय है कि अमरीका के राजनितिक इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है. इल्हान उमर मुस्लिम होने के साथ ही एक शरणार्थी महिला भी हैं. वह पहली सोमाली अमेरिकी महिला हैं जिन्होंने कांग्रेस में जगह बनाई है. इल्हान उमर सभी के लिए मेडिकल सुविधा, आपराधिक मामलों में सुधार, न्यूनतम मज़दूरी के लिए आवाज उठाने के लिए पहचानी जाती हैं. मध्यावधि चुनाव में उमर ने रिपब्लिकन उम्मीदवार जेनिफर ज़ाइलिंस्की को मात देकर कांग्रेस में जगह बनाई है.

अमरीकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस और पीएम मोदी के बीच अगले हफ्ते होगी अहम् बैठक

डेमोक्रेटिक पार्टी की इल्हान उमर और राशिदा तालिब ने इन चुनावों में जीत हासिल की है. दोनों मुस्लिम महिलाओं का अमरीकी संसद के लिए चुना जाना इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि राष्ट्रपति ट्रंप के कार्यकाल के दौरान उनकी नीतियां प्रवासियों और मुसलमानों के हक में नहीं थी, ऐसे में कांग्रेस में मुस्लिम महिलाओं का आना ट्रम्प के लिए मुश्किल भरी खबर हो सकती है. आपको बता दें कि दो अन्य मुस्लिम पुरुष पहले ही कांग्रेस में हैं, अब दो मुस्लिम महिलाओं के कांग्रेस में आ जाने से अमरीकी कांग्रेस में मुस्लिम्स की संख्या 4 हो गई है. 

खबरें और भी:-

अब डोनाल्ड ट्रम्प भी मनाएंगे दिवाली, तोड़ी 15 साल पुरानी परंपरा

वाशिंगटन में छठ पूजन करते हैं बिहारी, पोटॉमॅक नदी में देते हैं अर्ध्य

चीन ने पेश किया इंजीनियरिंग का एक और नमूना, समुद्र के नीचे बनाई दुनिया की सबसे बड़ी सुरंग

?