MP: कारखाने पहुंची पुलिस ने खोला अलमारी का दरवाजा, अंदर का नजारा देख उड़े होश

ग्वालियर: ग्वालियर से एक चौकाने वाला मामला सामने आया है जिसके बारे में जानने के बाद आम व्यक्ति के ही नहीं बल्कि पुलिस के भी होश उड़ गए। जी दरअसल यहाँ पुलिस जब एक बंद कारखाने में रेड के लिए गयी तो एक ऐसे गुप्त रास्ते का खुलासा हुआ जहां से अवैध शराब के गोरखधंदे को चलाया जा रहा था। जी हाँ, मिली जानकारी के अनुसार इस कारखाने में एक अलमारी के अंदर सुरंगनुमा तहखाना बनाकर शराब को छुपाकर कारोबार हो रहा था। जैसे ही पुलिस को इस बारे में जानकारी मिली पुलिस पहुंची और कारखाने में घुसकर सीधे उस अलमारी का दरवाजा खोला जहाँ से सुरंगनुमा तहखाने का रास्ता गया था।

इसमें से अवैध अंग्रेजी और देसी शराब को बरामद किया है। बताया जा रहा है उसके अंदर रखी करीब 10 लाख की शराब मिली है और पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर कार्रवाई शुरू कर दी है। आप सभी को बता दें कि झांसी रोड थाना क्षेत्र के बाराघाटा में बंद कारखाने में अवैध शराब का कारोबार चल रहा था, और इसे आरोपी महेश गुप्ता द्वारा चलाया जा रहा था। पुलिस का कहना है उन्हें जैसे ही उसके ठिकाने का पता चला वैसे ही उन्होंने कारखाने पर छापामार कार्रवाई की। जी दरअसल पुलिस को इनपुट मिला था कि नशा कारोबारी ने कारखाने में एक कमरा बना रखा है, जिसकी दीवार में एक अलमारी बनाई हुई है, जिसके अंदर एक तहखानानुमा सुरंग बनी हुई है।

ऐसे में जैसे ही पुलिस ने यहाँ पहुंचकर अलमारी का गेट खोला वैसे ही अंदर का नजारा देखकर पुलिस की आंखें फटी रह गईं। पुलिस ने देखा कि अलमारी के अंदर एक कमरा है, जिसमें 147 पेटियां इंग्लिश शराब और 4 देसी पेटी शराब रखी हुई थी। सभी की कीमत कुल मिलाकर10 लाख रुपए सामने आई है। इसके बाद पुलिस ने कारोबार में शामिल जीतू बघेल और विजय प्रताप बघेल निवासी फिरोजाबाद को धर दबोच लिया है। वहीं पुलिस ने इस मामले में 6 आरोपी जीतू बघेल, विजय बघेल, महेश गुप्ता, अनु सेन, प्रमोद चौरसिया और एक अन्य के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर फरार आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

ग्वालियर में बढ़ता जा रहा डेंगू का कहर

सांसद प्रज्ञा ठाकुर का भाषण सुन मंच छोड़कर चले गए कांग्रेस विधायक

ग्वालियर में बढ़ता जा रहा डेंगू का कहर

Most Popular

- Sponsored Advert -