बाहुबली, बजरंगी भाईजान को पीछे छोड़ 'कोर्ट' पहुंची ऑस्कर

बाहुबली, बजरंगी भाईजान को पीछे छोड़ 'कोर्ट' पहुंची ऑस्कर

ऑस्कर अवार्ड्स में जगह बनाना हर फिल्म और निर्देशक का सपना होता है फिर चाहे फिल्म को पुरस्कार मिले या न मिले ऑस्कर के लिए नामांकित होना ही अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि होती है. इस वर्ष यह उपलब्धि पाई है एक मराठी फिल्म ‘कोर्ट’ ने. यह जानकारी भारतीय फिल्म फेडरेशन के महासचिव सुपरैन सेन ने दी है. फिल्म कई बड़ी बॉलीवुड फिल्मो को पीछे छोड़ते हुए ऑस्कर लिस्ट में पहुंची है.

फिल्म ‘कोर्ट’ ने बॉलीवुड फिल्म बाहुबली, बजरंगी भाईजान ,पीकू और NH-10 जैसी बड़े बजट की सफल फिल्मो को पीछे छोड़ दिया है और ऑस्कर की लिस्ट में अपनी जगह बना ली है. फिल्म फेडरेशन महासचिव श्री सुपरैन सेन जानकारी देते हुए कहा "‘कोर्ट’ को ऑस्कर में इंट्री मिल चुकी है." इस फिल्म को वर्ष 2015 के राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में बेस्ट फीचर फिल्म का पुरस्कार भी मिल चुका है.

इस वर्ष ऑस्कर के नामांकन के लिए 30 फिल्में दौड़ में थीं जिनमे से 'कोर्ट' को सफलता मिली है. यह तमहाने की पहली ही फिल्म है जो की कम बजट की फिल्म है लेकिन पूरी फिल्म में अपने विषय पर पकड़ बनाये रखने वाली इस कहानी ने दर्शको को बंधे रखा जिससे फिल्म को यह मुकाम मिल पाया. प्रख्यात अभिनेता और फिल्म निर्माता अमोल पालेकर की अध्यक्षता में 17 सदस्यों की टीम ने उनकी इस फिल्म को चुना है जिससे तमहाने काफी खुश है.