मन की बात में इस समाज सेवक का पीएम ने लिया नाम, जानें उनके बारें में हर एक बात

May 31 2020 04:17 PM
मन की बात में इस समाज सेवक का पीएम ने लिया नाम, जानें उनके बारें में हर एक बात

पीएम मोदी ने आज (31 मई) मन की बात में राजू नाम के शख्स का जिक्र किया. राजू इससे पहले भी अपने काम की वजह से चर्चा में रहे हैं. राजू ने कोरोना काल में लोगों की मदद कर मानवता की शानदार मिशाल पेश की है. यही वजह रही है कि प्रधानमंत्री मोदी ने राजू के बारे में पूरे देश को बताया.

नेपाल की संसद में संविधान संशोधन बिल पेश, नए नक़्शे में तीन भारतीय इलाके शामिल

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि राजू पंजाब के पठानकोट के रहने वाले हैं. वह दिव्यांग हैं और भीख मांगते हैं. भीख से मिलने वाले रुपयों को राजू लोगों की सहायता में खर्च करते हैं. भीख के पैसों से राजू ने अब तक 100 से ज्यादा परिवारों को एक महीने का राशन दिया और 2500 से ज्यादा लोगों में मास्क भी बांट चुके हैं. यह सब पैसे राजू ने भीख से जुटाए थे. राजू व्हीलचेयर पर दिनभर भीख मांगते हैं. वह भीख मांगकर अपने पास सिर्फ उतना रखते हैं, जितने में उनका गुजारा हो. बाकी सब वह दूसरे लोगों में बांट देते हैं. मैले-कुचैले कपड़ों में लोगों के घरों तक राशन पहुंचाने वाले राजू दिव्यांग ही नहीं स्वस्थ व्यक्ति के लिए भी प्रेरणा स्त्रोत है. वहीं, लोगों को पता है कि उनका पैसा भलाई के कामों में लगना है तो लोग राजू को खुले दिल से पैसे भी देते हैं. 

इंदौर: रहस्यमयी स्थिति में फ्लैट के अंदर मृत पाए गए बुजुर्ग दंपत्ति, मचा हड़कंप

वायरस के इस काल में राजू की दरियादिली का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि वह समाज सेवा में बहुत दिनों से जुटे हुए हैं. अब तक वो 22 गरीब लड़कियों की शादी करा चुके हैं. गर्मियों में छबील, भंडारा भी करवाते हैं. इतना ही नहीं पठानकोट के ढांगू रोड पर एक गली की पुलिया पर रोजाना हादसों से तंग आकर राजू ने अपने पैसों से इसका निर्माण करवाया. वही, हर साल 15 अगस्त को महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सिलाई मशीनें उपलब्ध कराते हैं. सर्दियों में कंबल बांटते हैं. राजू अभी कुछ बच्चों की फीस का खर्च भी उठा रहे हैं. कॉपी-किताब के लिए भी मदद करते हैं. राजू कहते हैं कि यह सब मेरे अपने हैं. इनकी मदद कर मन को शांति मिलती है.

तबाही मचाने के लिए भारत की तरफ बढ़ रहा एक और चक्रवाती तूफ़ान, IMD ने किया आगाह

परिजनों को बताए बिना कर डाला कोरोना मृतक का अंतिम संस्कार, प्रशासन पर उठे सवाल

यूपी में शुरू होंगी बस और टैक्सी सर्विस, योगी सरकार जारी करेगी गाइडलाइन्स