भाजपा में शामिल हुए मनजिंदर सिंह सिरसा, पंजाब चुनाव में हो सकता है बड़ा उलटफेर

अमृतसर: पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले शिरोमणि अकाली दल (शिअद) को तगड़ा झटका लगा है। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के नेता और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के मौजूदा अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा बुधवार (1 दिसंबर 2021) को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रमुख जेपी नड्डा और केंद्रीय गृृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और धर्मेंद्र प्रधान आदि नेताओं की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो गए। सिरसा ने भाजपा का दामन थामने के साथ ही दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधन समिति से इस्तीफा दे दिया है।

भाजपा में शामिल होने के बाद सिरसा ने कहा कि, 'अमित शाह और पीएम मोदी ने आश्वासन दिया है कि सिखों के जितने भी मसले हैं, वे हल होने चाहिए, किन्तु ये राजनीति के भेंट चढ़े हैं। इसलिए मैं दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर भाजपा ज्वाइन कर रहा हूँ।' इससे पहले सिरसा ने ट्विटर पर अपना इस्तीफा पोस्ट करते हुए लिखा था कि, 'सभी पदाधिकारियों, सदस्यों, कर्मचारियों और मेरे साथ काम करने वाले लोगों का आभार प्रकट करता हूँ। मैं दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी से अध्यक्ष पद से त्यागपत्र दे रहा हूँ और आगामी DSGMC का चुनाव नहीं लडूँगा। अपने समुदाय, इंसानियत और देश की सेवा करने की मेरी प्रतिबद्धता बनी रहेगी।'

सिरसा ने वीडियो के जरिए कहा कि वह निजी वजहों से वे दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति से इस्तीफा दे रहे हैं और इसके अगले चुनाव से वे खुद को दूर रखेंगे। उन्होंने दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्यों, देश और दुनिया के सिखों को धन्यवाद दिया, जिन्होंने उन्हें बहुत सम्मान दिया है। उन्होंने कहा कि, 'मेरे सदस्यों, शुभचिंतकों का शुक्रिया, जिन्होंने अब तक मेरा समर्थन किया है।'

विपक्षी दल अपने दम पर बीजेपी से नहीं लड़ सकते: दिनेश शर्मा

वाजिद अली शाह प्राणी उद्यान के 100 वर्ष हुए पूरे, समरोह में पहुंचकर सीएम योगी ने की इनसे मुलाकात

केरल में राज्यसभा की एक सीट के लिए उपचुनाव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -