वाजिद अली शाह प्राणी उद्यान के 100 वर्ष हुए पूरे, समरोह में पहुंचकर सीएम योगी ने की इनसे मुलाकात

लखनऊ: राजधानी स्थित वाजिद अली शाह प्राणी उद्यान की स्थापना के 100 साल पूरे होने पर इन दिनों शताब्दी वर्ष समारोह को आयोजित किया जा रहा है. जिसमें सोमवार को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए है. इस अवसर पर सीएम योगी ने लखनऊ प्राणी उद्यान की शताब्दी स्मारिका और चित्रों में चिड़ियाघर नाम की बुक के साथ जारी किए गए डाक टिकट का विमोचन किय़ा. साथ ही बाघों और तेंदुए के शावकों का नामकरण भी कर दिया है. इतना ही नहीं  शाताब्दी वर्ष पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं के साथ लखनऊ चिड़ियाघर के पूर्व प्रशासकों और निदेशकों को सम्मानित भी कर दिया है. मुख्यमंत्री योगी ने सभी को बधाई दी और आगे भी निष्ठाभाव से इस इलाके में कार्य करने  के बारें में भी कहा है.

गोरखपुर में बनेगा नया उद्यान: इस बीच मुख्यमंत्री योगी ने एक ओर जहां बाघो के नर शावकों का शेरशाह, सिम्बा और मादा शावक का नाम साक्षी रखा. तो वहीं दूसरी ओर नर तेंदुए शावक का नाम तेजस और मादा का नाम भवानी रख दिया है. इसके उपरांत सीएम योगी ने  लखनऊ प्राणी उद्यान के 100  साल पूरे होने पर सभी को शुभकामनाएं दी है. उन्होंने बोला है कि यह हम सभी के लिए गर्व की बात है और इसमें हर एक व्यक्ति की मेहनत साफ़ दिखाई दे रही है. उनका कहना था कि सबके अथक प्रयास की वजह से ही आज यह शताब्दी समारोह का आयोजन इतनी धूमधाम से किया गया है.

हर व्यक्ति की जिम्मेदारी: इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी ने बोला है कि जीव जंतुओं और पर्यावरण की रक्षा करना हम सभी की जिम्मेदारी है. मनुष्य का जीव-जतुंओ के प्रति व्यवहार ही उसका मूल बर्ताव भी है. प्रगति के साथ सभी जीव-जंतुओ और पर्यावरण के सरंक्षण की जिम्मेदारी हर एक व्यक्ति को लेना चाहिए. पिछली सरकारों पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने बोला है कि बीते 70 वर्षों में सिर्फ 2 प्राणी उद्यान बने हैं. हमारी सरकार निरंतर इस दिशा में कार्य कर रही है और जल्द ही गोरखपुर में एक नया प्राणी उद्यान बनाया जाएगा. साथ ही उन्होंने बताया कि बीते 5 सालों में वन विभाग ने 100 करोड़ पौधारोपण किए हैं.

केरल में राज्यसभा की एक सीट के लिए उपचुनाव

CM योगी ने किया एथनॉल प्लांट का शिलान्यास, किसानों की तरक्की होगी, रोज़गार भी मिलेगा

मोदी सरकार ने मानी किसानों की ये मांग, कृषि मंत्री बोले- बड़ा दिल दिखाते हुए घर लौटें किसान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -