बंगाल में तोड़े जाएंगे अवैध मंदिर और धर्मस्थल.., ममता सरकार ने जारी किया आदेश

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस (TMC) सरकार ने राज्य के आठ जिलों के जिलाधिकारियों को पत्र लिखते हुए सार्वजनिक स्थानों पर बने अवैध मंदिरों एवं अन्य धार्मिक स्थलों को हटाने का आदेश दिया है। सरकार ने अधिकारियों से कार्रवाई के बाद रिपोर्ट तलब की है।

27 जनवरी 2022 (गुरुवार) के जारी किए गए आदेश में बंगाल सरकार ने दार्जिलिंग, अलीपुरद्वार, कूचबिहार, कलिम्पोंग, पूर्वी मिदनापुर, उत्तर 24 परगना, दक्षिण दिनाजपुर और पूर्वी बर्दवान के जिलाधिकारियों को इ ‘अनधिकृत’ संरचनाओं के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। आदेश में जिला प्रशासन को ऐसी संरचनाओं को हटाते वक़्त एहतियात बरतने का भी निर्देश दिया गया है।

बता दें कि ममता सरकार द्वारा अप्रैल 2010 में जारी किए गए सरकारी आदेश में कहा गया था कि, 'सरकार सार्वजनिक जगहों पर किसी भी नए अनधिकृत निर्माण की इजाजत नहीं देगी। राज्य, सरकारी विभाग और पंचायत एवं नगरपालिका जैसे स्थानीय निकायों को इस प्रकार के निर्माणों का पता लगाने और इसे लोक स्वीकृति मिलने से पहले जल्द-से-जल्द रोकने के लिए उचित कदम उठाना होगा। अगर जरूरी हुआ तो विध्वंस की जिम्मेदारी भूमि के स्वामित्व वाले विभाग की होगी।'

केजरीवाल बोले- पंजाब में बनना चाहिए धर्मान्तरण विरोधी कानून, दिल्ली में इसी मुद्दे पर चुप्पी

सिद्धू ने 6 महीने से खुद नहीं भरा 4 लाख का बिजली बिल, पंजाब में फ्री बिजली का वादा कर रही कांग्रेस

'जो अपनी माँ का नहीं हुआ, वो जनता का क्या होगा..', नामांकन भरने के बाद सिद्धू पर बरसे मजीठिया

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -