सोनू सूद की भेजी गई बसों के कारण फैला कोरोना: केशव देव मौर्य

बदायूं: कोरोना महामारी के दौरान लोगों के लिए मसीहा बनकर सामने आए सोनू सूद इन दिनों मुश्किलों में हैं। जी दरअसल बीते दिनों उनके घर और ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की। इन सभी के बीच, महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने एक्ट्रर सोनू सूद को अपने निशाने पर लिया है। हाल ही में उन्होंने सोनू सूद पर कोरोना वायरस संक्रमण को फैलाने का आरोप लगाया। जी दरअसल महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य बीते शनिवार 18 सितंबर को बदायूं के हाफिज सिद्दीकी इस्लामियां इंटर कॉलेज पहुंचे। यहाँ वह समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ आयोजित संयुक्त जनाक्रोश रैली को संबोधित कर रहे थे।

इस दौरान उन्होंने कहा, 'सोनू सूद के घर और ठिकानों पर आयकर विभाग की रेड पड़ रही है। अब सोनू सूद भी जल्द बीजेपी का प्रचार करते नजर आएगे। सोनू सूद की ओर से भेजी गई बसों के कारण कोरोना फैला।' इसी के साथ केशव देव मौर्य ने यह भी कहा कि, 'सोनू सूद को कोरोना काल मे बसें चलाने की परमिशन दी गई और सरकारी बसों को रोक दिया गया। कोरोना सोनू की बसों से फैला जो कोरोना संक्रमितों को ला रही थीं।' इसके अलावा केशव देव मौर्य ने यह भी कहा, 'सोनू सूद को मसीहा साबित करने के लिए ऐसा किया गया, क्योंकि वह आरएसएस की विचारधारा का आदमी है। अब उसपर छापे पड़ रहे हैं। अब वो तब बचेगा जब बीजेपी के मंच पर चुनाव प्रचार करता नजर आएगा।'

वहीँ आगे उन्होंने यह भी कहा कि, 'पिछला विधान सभा चुनाव भाजपा ने पिछड़े वर्ग के नेता को मुख्यमंत्री बनाने के वादे के साथ लड़ा। किन्तु बाद में उनको अपमानित किया गया। भाजपा की मानसिकता पिछड़ा विरोधी है। अब 2022 के चुनाव में अखिलेश यादव को ही मुख्यमंत्री बनाया जाएगा।' इस दौरान उनके अलावा धर्मेन्द्र यादव ने कहा, 'भाजपा नेताओं ने हमेशा पिछड़ी बिरादरी के लोगों को वोट के रूप में इस्तेमाल किया है परंतु समाज के वर्ग के उत्थान व कल्याण के लिये समाजवादी पार्टी में सदैव ही सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष किया है।'

अवैध संबंध के शक में खुलेआम जिम ट्रेनर पर बरसी गोलियां, गिरफ्तार हुए JDU नेता

इनमे से कोई एक हो सकता है पंजाब का नया CM! आज होने वाली विधायक दल की बैठक रद्द

चलती कार में अचानक लगी आग, जिंदा जला डॉक्टर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -