छत्तीसगढ़: बहुचर्चित डकैती कांड का पुलिस ने किया पर्दाफाश

रायपुर: छत्तीसगढ़ में रायपुर की समता कालोनी में तकरीबन दो माह पूर्व हुई एक डकैती कांड में पुलिस ने इसके पीछे के आरोपियों को अपनी हिरासत में ले लिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यह आरोपी गिरोह बांग्लादेश में होने वाले वहां के लोकल चुनावों में फंडिंग के लिए भारत में इस प्रकार की वारदात को अंजाम दे रहे थे। पुलिस को इनसे और भी कई चौंकाने वाली बातो का पता चला है.

पुलिस ने इन्हे मिडिया के सामने प्रस्तुत किया. इन आरोपियों के नाम मोहम्मद सनोबर और मोहम्मद इमरुल उर्फ इमरान है. इन आरोपियों ने इस दौरान अल्ताफ हुसैन उर्फ बाबा का नाम लिया, जो बांग्लादेश के बागेरहाट जिले से लोकल चुनाव लड़ने वाला था. सनोबर ने कहा की अल्ताफ को बांग्लादेश में इलेक्शन कैंपेन के लिए काफी पैसों की जरूरत को दोहराया था तथा हमसे बात कर भारत में डकैती का प्लान बताया पहले तो हमे दर लगा लेकिन पैसो की खातिर हम इस गैंग में सम्मिलित हो गए. बता दे की इस गिरोह ने अगस्त की सुबह करीब तीन बजे समता कॉलोनी में सेलटैक्स वकील आलोक अग्रवाल के घर में घुसकर परिवार को बंधक बनाकर जेवर व नगदी  लूट लिए थे. तथा पुलिस ने लूट के पैटर्न पर बांग्लादेशी गिरोह पर अपना शक जाहिर किया था.

इन्होने कहा की हम सब पहले लूट का प्लान बनाते थे व उसके बाद ही धावा बोलते थे. व इन वारदातो को अंजाम देकर अलग अलग राज्यों से होते हुए बांग्लादेश लौंट जाते थे. यह सभी आरोपी लूटी गई राशि को भी  थोड़ा थोड़ा आपस में बाँट लेते थे की ताकि किसी को शक न हो. इन दोनों आरोपियों को मुंबई में डकैती का प्लान बनाते हुए रायपुर क्राइम ब्रांच ने रंगेहाथों पकड़ लिया. 

Most Popular

- Sponsored Advert -