​मजदूरों के पसीने ने जिन शहरों को किया विकसित, उन्ही महानगरों ने छोड़ा भूखा और बेसहारा

दुनियाभर के शोधकर्ताओं ने लॉकडाउन को कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने का एक कारगर उपाय माना है. भारत सरकार ने इस उपाय को शुरू में ही अपनाया, जिसका परिणाम है कि भारत ने लाखों लोगों को कोरोना संक्रमित होने से बचाया है. इस लॉकडाउन समय के दौरान भारत ने कई बेड वाले अस्पताल, आइसीयू और वेंटीलेटर्स को तैयार किया जो कि कठिन समय में कोरोना के मरीजों के लिए काम आ सके.

वाराणसी में कोरोना के कारण बढ़ा संक्रमितों का आंकड़ा, सामने आया फिर नया मामला

इसके अलावा दूसरा पहलू बड़ा ही भयानक है, जो कि लोगों के जीवनयापन से जुड़ा है. कोरोना वायरस के कारण सरकार द्वारा लिए गए लॉकडाउन के निर्णय का असर सबसे अधिक रोज कमाने और खाने वाले प्रवासी मजदूरों पर पड़ा है. महानगरों से होने वाला पलायन लॉकडाउन के शुरुआती दिनों से ही जारी है. आज यह जरूर सोचने पर मजबूर कर रहा है कि ऐसा शहर जहां मजदूरों ने अपने पसीने से शहर को बनाया और आज वो शहर एक-दो महीने के लिए भरण पोषण करने मे असमर्थ है. इसी बीच इतनी बड़ी संख्या में होने वाले मानवीय पलायन से गांवों में कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा बन गया है. आप सभी ने महसूस किया होगा कि इस खतरे को गांव के लोगों ने अपनी सूझबूझ से अभी तक संभाला है.

असुरक्षित ढंग से राज्य में नहीं घूस पाएंगे प्रवासी मजदूर, सीएम योगी ने कही यह बात

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि गांव अभी भी अहम है बेरोजगारी की समस्या का समाधान देने के लिए. प्राचीन समय में गांव स्वावलंबी हुआ करते थे. हर एक गांव में पर्याप्त काम करने का अवसर था. जैसे कोई खेत में, कोई मिट्टी के बर्तन बनाने में, कोई सब्जियां उगाने में, कोई बाल काटने में इत्यादि. आज के आधुनिक युग में लोगों को बिना रुपये के काम करना पसंद नहीं है. इसलिए हर परंपरा खत्म सी हो गई और लोग शहरों की ओर पलायन करने लगे. पिछले तीन महीनों में बेरोजगारी की दर तीन गुना बढ़ गयी है और करीब 12 से 13 करोड़ लोगों की नौकरियां चली गई हैं. ऐसे में भारत के सामने इतने लोगों का भरण पोषण की भी समस्या है.

आर्थिक पैकेज: प्रेस वार्ता में बोलीं वित्त मंत्री- 30 करोड़ से अधिक लोगों के अकाउंट में पैसे पहुंचाए

किसी भी जिले से मजदूरों के लिए चलेगी ट्रेन, रेल मंत्री ने कही यह बात

मध्यप्रदेश में दर्दनाक हादसा, पति-पत्नी सहित चार लोगों को ट्रक ने रौंदा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -