आर्थिक पैकेज: प्रेस वार्ता में बोलीं वित्त मंत्री- 30 करोड़ से अधिक लोगों के अकाउंट में पैसे पहुंचाए

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की पांचवीं और अंतिम किश्त की घोषणाएं कर रही हैं. इस दौरान उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने कहा था कि आपदा को अवसर में बदलने की आवश्यकता है. उसी के अनुसार ये आर्थिक पैकेज तैयार किया गया है. उन्होंने कहा कि इस पैकेज में लैंड, लेबर, लॉ, लिक्विडिटी पर फोकस किया गया है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत टेक्नोलॉजी का उपयोग कर DBT के जरिए कैश ट्रांसफर किया गया है. इसके तहत 8.19 करोड किसानों के अकाउंट में 2-2 हजार रुपये डाले गए हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इसके साथ ही देश के 20 करोड़ जन-धन एकाउंट्स में डायरेक्ट ​बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से 00-500 रुपये भेजे गए. उज्ज्वला योजना के तहत 6.81 करोड़ रसोई गैस धारकों को फ्री सिलेंडर दिया,  2.20 करोड़ निर्माण मजदूरों को सीधे उनके बैंक अकाउंट में पैसा दिया गया.

निर्मला सीतारमण ने कहा कि मजदूरों को उनके गृह राज्यों तक पहुंचाने के लिए 85 फीसदी खर्चा केंद्र सरकार वहन कर रही है. मजदूरों को ट्रेनों में भोजन दिया जा रहा है. सीतारमण ने कहा कि कोरोना वायरस से जंग के लिए स्वास्थ्य विभाग को 15 हजार करोड़ रुपये दिए गए हैं. टेस्टिंग और लैब किट के लिए 550 करोड़ रुपये दिए गए हैं. कोरोना से लड़ाई में लड़ रहे स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 50 लाख रुपये के स्वास्थ्य बीमा का ऐलान किया गया है.

भूख से तड़प रहे हजारों लोगों की मदद कर चुकी है यह फाउंडेशन

स्वास्थ्यकर्मी की मदद के लिए दक्षिण मध्य रेलवे ने बनाया यह डिवाइस

सोशल मीडिया से पाठकों से जुड़ रहे है लेखक

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -