जानिए कब और कैसे हुई थी विश्व शरणार्थी दिवस की स्थापना

जानिए कब और कैसे हुई थी विश्व शरणार्थी दिवस की स्थापना
Share:

विश्व शरणार्थी दिवस हर साल 20 जून को मनाया जाता है। यह दिन उन लोगों के साहस, शक्ति और संकल्प को श्रद्धांजलि देने के लिए माना जाता है, जो हिंसा, संघर्ष, युद्ध और उत्पीड़न के कारण अपना घर छोड़ने को मजबूर हैं, या यूँ कहें कि जो अपना देश छोड़कर बाहर भागने को मजबूर हैं। यह दिन इन शरणार्थियों की परिस्थितियों की ओर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए मनाया जाता है ताकि इस समस्या का समाधान किया जा सके।

संयुक्त राष्ट्र (यूएनओ) ने वर्ष 2000 में इस दिन की घोषणा की थी। तब से हर साल 20 जून को विश्व शरणार्थी दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मुख्य कारण लोगों में जागरूकता फैलाना है कि कोई भी इंसान अमान्य नहीं है, चाहे वह किसी भी देश का हो। UNHCR, एक संयुक्त राष्ट्र संगठन, शरणार्थियों की मदद करता है। इसके तहत, UNHCR शरणार्थियों को कानूनी सुरक्षा प्रदान करता है और उनकी समस्याओं का दीर्घकालिक समाधान चाहता है, जिससे वे या तो स्वेच्छा से अपने घरों में लौट सकें या दूसरे देशों में बस सकें। इसका उद्देश्य शरणार्थियों और अन्य जबरन विस्थापित लोगों की मदद करना है जो शांति और सम्मान के साथ अपने जीवन का पुनर्निर्माण करते हैं।

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार संगठन (यूएनएचआरसी) के मुताबिक, साल 2019 में पूरी दुनिया में इन शरणार्थियों की संख्या 79.50 करोड़ पहुंच गई है। अकेले वर्ष 2019 में ही एक करोड़ लोग अपना घर छोड़कर दूसरी जगहों पर बस गए हैं, यह एक बड़ी चिंता का विषय बन गया है, जिस पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

ब्रिटेन: अवैध प्रवासियों के खिलाफ खुद रेड मारने पहुंचे पीएम सुनक! 20 देशों के 105 लोग गिरफ्तार

रियल वर्ल्ड से कम नहीं है Tiny World, जानिए क्या है खासियत

किसी का गला काटा, किसी को गोली मारी, फिर हॉस्टल में ही लगा दी आग, आतंकी हमले में 38 बच्चों समेत 41 की मौत

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -