कर्नाटक सरकार ने कोविड को रोकने के लिए 13 केरल प्रवेश बिंदु बंद करने का दिया आदेश

By Emmanual Massey
Feb 22 2021 01:01 PM
कर्नाटक सरकार ने कोविड को रोकने के लिए 13 केरल प्रवेश बिंदु बंद करने का दिया आदेश

तिरुवनंतपुरम: कर्नाटक के प्रवेश बिंदुओं के पास निवास करने वाले केरल के लोगों को सोमवार को अधिकारियों के हंगामे के बाद वनाड और कासरगोड जिलों में प्रवेश के 13 बिंदुओं को बंद करने का फैसला करना पड़ा। ये खुली सीमाएँ दोनों तरफ रहने वाले लोगों के लिए एक बड़ी सफलता प्रदान करती हैं। वे विभिन्न आवश्यकताओं के लिए स्वतंत्र रूप से आगे बढ़ते हैं, विशेष रूप से कृषक समुदाय जो केरल से नियमित रूप से ऐसी गतिविधियों में संलग्न होने के लिए आगे बढ़ते हैं, जो या तो उनके पास हैं ।

कासरगोड विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले वरिष्ठ विपक्षी विधायक एनए नेलिकुन्नु ने कहा कि यह कर्नाटक के अधिकारियों द्वारा एक अनुचित कार्रवाई है और यह केंद्र के दिशा-निर्देशों के उल्लंघन का उल्लंघन है। "हमें यह समझने के लिए दिया जाता है कि उनके अधिकारी अब केरल से यात्रा करने वाले और कर्नाटक में प्रवेश करने वाले सभी लोगों से RT-PCR परीक्षा परिणाम पर जोर दे रहे हैं। तर्क को समझने में विफल हैं, जबकि केरल में लोग कोविद प्रोटोकॉल का पालन करते हैं और मास्क पहनते हैं, ऐसी कोई बात नहीं है।"

कर्नाटक में हो रहा है और फिर भी वे यह गैरकानूनी काम करते हैं। हम केरल सरकार से तत्काल हस्तक्षेप की उम्मीद करते हैं, "नेल्लीकुन्नु ने कहा- संयोग से कर्नाटक का यह कृत्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे के कुछ ही घंटों बाद आया है और केरल के त्रुटिपूर्ण कोविद के उपायों के बारे में बताया गया है, और केरल के राष्ट्रपति पद के राज्य यात्रा को हरी झंडी दिखाते हुए बीजेपी अध्यक्ष के। सुरेश कुमार ने कहा- "आज पूरी दुनिया केरल में हंसी आ रही है क्योंकि कोविद राज्य में व्यापक रूप से प्रचलित है "तारीख के रूप में केरल में लगभग 58,000 सक्रिय कोविड मामले हैं।

'नारी को मृत्युदंड देने से आएंगी आपदाएं...', शबनम की फांसी रोकने के लिए हिन्दू धर्मगुरु ने उठाई आवाज़

'कांग्रेस' के हाथ से निकला एक और राज्य, पुडुचेरी में गिरी नारायणसामी सरकार

'अलविदा ! मेरा समय ख़त्म हुआ...', भाषण ख़त्म करते ही किसान नेता को आया हार्ट अटैक, हुई मौत