Share:
रिलायंस रिटेल में आई निवेश की बहार, ये दो कंपनियां करेंगी अरबों डॉलर का इन्वेस्टमेंट
रिलायंस रिटेल में आई निवेश की बहार, ये दो कंपनियां करेंगी अरबों डॉलर का इन्वेस्टमेंट

जाने माने मशहूर जियो प्लेटफॉर्म्स में इन्वेस्टमेंट जुटाने के पश्चात् अब मुकेश अंबानी अपनी रिटेल कंपनी के लिए फंड जुटाने में लगे हैं। मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस उद्योग के रिटेल व्यवसाय में एक के पश्चात् एक इंवेस्टमेंटों की झड़ी लग गई है। सिंगापुर सॉवरेन वेल्थ फंड जीआईसी तथा ग्लोबल इनवेस्टमेंट फर्म टीपीजी कैपिटल ने रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड में कुल एक अरब डॉलर मतलब लगभग 7350 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट करने का ऐलान किया है। 

वही जीआईसी रिलायंस रिटेल में 5512.5 करोड़ रुपये इन्वेस्टमेंट करेगी, जिसके बदले उसे 1.22 फीसदी भागेदारी मिलेगी। वहीं टीपीजी 1838.7 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट करेगी, जिसके बदले उसे 0.41 फीसदी भागेदारी मिलेगी। रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी वैल्यू 4.285 लाख करोड़ रुपये आंकी गई है। ध्यान रहे कि टीपीजी का रिलायंस में यह दूसरा इन्वेस्टमेंट है। पहले टीपीजी ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 4,546.8 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट करने का ऐलान किया था।

साथ ही रिलायंस रिटेल में इन्वेस्टमेंट का सिलसिला नौ सितंबर से आरम्भ हुआ था। इसके लिए अंबानी अब तक विदेशी इन्वेस्टर से 32,197.50 करोड़ रुपये से ज्यादा इन्वेस्टमेंट जुटा चुके हैं। इससे पूर्व केकेआर, जनरल अटलांटिक, मुबाडला तथा सिल्वर लेक पार्टनर्स इसमें इन्वेस्टमेंट कि घोषणा कर चुके हैं, जिसके बदले उन्हें कंपनी में कुल 7.28 फीसदी की भागेदारी मिलेगी। वही देशभर में रिलायंस रिटेल लिमिटेड के फैले 12,000 से अधिक स्टोर्स में सालाना लगभग 64 करोड़ कस्टमर आते हैं। यह भारत का सबसे बड़ा तथा सबसे तेजी से विकसित होने वाला रिटेल बिजनेस है। इसी के साथ ये जियो प्लेटफॉर्म के लिए ये बेहद ख़ुशी का समय है। 

छह सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को आरबीआई ने किया अधिनियम की दूसरी अनुसूची से बाहर

RBI ने इन 6 बड़े बैंकों को अपनी सूची से किया बाहर, जानिए क्या है वजह

Curefit को है स्वतंत्र फंड-रेज़र की तलाश

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -