रेलवे ने बदले नियम, नहीं लगेगा रिजर्वेशन चार्ट

< strong>नईदिल्ली: डिज़िटल इंडिया के बढ़ते आयामों में 'रेलवे' ने एक और अध्याय जोड़ दिया है. भारतीय रेल ने ट्रेन की बोगियों पर चिपकाए जाने वाले रिज़र्वेशन चार्ट को अब नहीं लगाए जाने का फैसला लिया है. रेलवे ने अब उन कागज़ वाले चार्ट की बजाय रेलवे स्टेशन पर डिज़िटल चार्ट लगाने का निर्णय लिया है. इस व्यवस्था के तहत देश भर के सारे रेलवे स्टेशनों पर डिज़िटल स्क्रीन के माध्यम से लोगों के सीट और आरक्षण संबधी जानकारियां प्रदान की जाएंगी.


..तो ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर इसलिए क्रॉस का निशान बना होता है

ट्रेनों पर अब किसी भी प्रकार की पर्ची नहीं चिपकाई जाएगी. मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार रेलवे ने यह आदेश जारी कर दिया है, जिससे तुरंत ही रजर्वेशन चार्ट का डिजिटलाइज़ेशन कर दिया जाएगा. ट्रेनों पर तो कोई परचा नहीं लगाया जायेगा लेकिन स्टेशन पर प्लेटफार्म चार्ट बोर्ड पर रिजर्वेशन सीट की जानकारी चिपकाई जाएगी, और यह अभी भी जारी रहेगी. दिल्ली-निज़ामुद्दीन सहित अन्य छः रेलवे स्टेशनों पर डिज़िटल चार्ट बोर्ड भी लगाए जा चुके हैं और इन सभी स्टेशनों पर रिज़र्वेशन चार्ट नहीं लगाए जायेंगे. रेलवे आने वाले दिनों में सम्पूर्ण स्टेशनों पर डिजिटल स्क्रीन लगाने की बात कही है. रेलवे भी अब अपने पूरी कार्यप्रणाली को डिज़िटल इंडिया में शामिल करने के लिए सम्पूर्ण डिज़िटल करने का निर्णय लिया है.



रेलवे में 10वीं पास के लिए भर्ती, सैलरी 20000 से अधिक

रेलवे के अधिकारियों का मानना है कि, रिज़र्वेशन चार्ट की अब कोई ज़रुरत भी नहीं रह जाती है यात्रियों को उनके मोबाइल फ़ोन पर मैसेज कर के पीएनआर और सीट सम्बन्धी सम्पूर्ण जानकारी प्रेषित कर दी जाती है. रेलवे को डिज़िटल बनाए की प्रक्रिया साल भर से जारी है, धीरे-धीरे काम करने की प्रणाली में परिवर्तन काम में बाधा नहीं डालते इसलिए यह परिवर्तन सामान्य तरीके से होता जा रहा है. देश के छः बड़े स्टेशनों पर डिज़िटल चार्टबोर्ड का इस्तेमाल प्रयोग के तौर पर किया गया था, अब सम्पूर्ण देश में लागू  कर दिया गया है.

ख़बरें और भी

अब नहीं होंगी रेलवे फाटक पर दुर्घटनाएं, ऐसे रोकेंगे सैनिक

9 प्रकार के हॉर्न बजाती है ट्रेन, जानिए क्या मतलब होता है उनका

रेलवे में बम्पर वैकेंसी, 2600 पदों के लिए मांगे आवेदन
 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -