..तो ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर इसलिए क्रॉस का निशान बना होता है

..तो ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर इसलिए क्रॉस का निशान बना होता है

इंडियन रेलवे नेटवर्क दुनिया में बहुत बड़े नेटवर्क में गिना जाता है। भारत में हर दिन रेलवे में करोड़ यात्री सफर करते है और अपनी मंजिल पर पहुंचते है। ट्रेन में सफर करना बहुत अच्छा लगता है यह बहुत आरामदायक होती है। ट्रेन में लंबे सफर बहुत अच्छे से कर सकते हैं, ऐसा इसलिए क्योंकि अगर आप बैठे - बैठे थक जाते हैं तो आराम से टहल सकते है। इतना ही नहीं बीच में कई सारे स्टॉप भी आते है लेकिन क्या आपने एक चीज देखी है कि कभी कोई ट्रेन स्टेशन से जाती है तो आखिरी में एक रेलवे कर्मचारी होता है जो ट्रेन के जाने के बाद हरी झंडी​ दिखाता है और आपने यह भी देखा होगा कि हर ट्रेन के पीछे क्रॉस का बड़ा सा साइन बना होता है ऐसा क्यों होता है आज हम आपको बताएंगे।

इंदौर में खुली अनोखी जेल, जहां रहना पसंद करेंगे आप

ट्रेन के बारे में बहुत सारी रोचक बातें हैं, जिनसे हम अंजान हैं, लेकिन आज आपको यह बताएंगे कि ट्रेन के पीछे क्रॉस का साइन क्यो होता है ? आपके मन में विचार आया होगा कि यह खतरे का निशान होगा लेकिन ऐसा नहीं है ।इसका मतलब होता है यह ट्रेन का आखिरी डब्बा है। इसके पीछे कोई और रेल का डब्बा नहीं है। इसलिए ट्रेन के आखिरी में यह निशान बनाया गया है। ऐसा कभी हो जाए कि बीच में ही कहीं ट्रेन का कोई सा डब्बा छूट गया हो और इंजन से कुछ डिब्बे अटैच है वह आगे निकल जाए इसलिए यह आखिरी में क्रॉस का निशान बनाया गया। 

इस देश में होता है 24 घंटे का दिन

वहीं ट्रेन के जाने के बाद रेलवे कर्मचारी आखिरी में हरी झंडी इसलिए देता है कि ट्रेन यहां से पूरी तरह से निकल गई है और उसमें आखिरी डब्बा भी था। तो आप जान गए होंगे कि ट्रेन के आखिरी में क्रॉस का निशान क्यों ​बना होता है और हरी झंडी क्यों दिखाई जाती है। 

यह भी पढ़ें 

खूब उठा ली समंदर की रेत, इन देशों से उठाई तो होगी सज़ा

किसान ने उगाया सबसे बड़ा गोभी, देखते रह जायेंगे आप

अनोखी लाइब्रेरी जिसमें कैसे भी बैठकर पढ़ सकते हैं किताब