हिंसक हुआ इमरान खान का आज़ादी मार्च, मेट्रो स्टेशन फूंका, इस्लामाबाद में उतरी सेना

इस्लामाबाद: पाकिस्तान में सत्ता बदलने के बाद अब हालात सुधरने की जगह और अधिक बिगड़ते नज़र आ रहे हैं। इमरान खान चुनाव की मांग को लेकर अपने समर्थकों संग इस्लामाबाद में प्रवेश कर चुके हैं। इमरान खान के इस आजादी मार्च को रोकने के लिए पाकिस्तानी सरकार ने रेड जोन में फ़ौज को तैनात कर दिया है।

 

प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाकर्मियों में झड़प की खबरें भी मीडिया में आ रही हैं। इमरान के समर्थकों ने वहां एक मेट्रो स्टेशन में भी आग लगा दी है। PTI पार्टी के नेता फवाद चौधरी का कहना है कि इमरान खान Centaurus bridge पर अपने समर्थकों को संबोधित करेंगे। इमरान का काफिला स्वाबी वाली से रवाना हुआ था और श्रीनगर हाईवे (पाकिस्तान में) होते हुए डी-चौक तक पहुंचेगा। उनकी पार्टी के कुछ कार्यकर्ता पहले से डी-चौक पर मौजूद हैं, जिनको हटाने के लिए निरंतर आंसू गैस के गोले दागे जा रहे हैं।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान अपने समर्थकों के साथ D-Chowk की ओर बढ़ रहे हैं। फिलहाल सरकार ने जो आदेश जारी किया है, उसमें कहा गया है कि उनकी प्राथमिकता सरकारी इमारतों की रक्षा करना है। शहबाज शरीफ की सरकार का कहना है कि इमरान के समर्थक सुप्रीम कोर्ट, संसद भवन, PM आवास, प्रेसिडेंसी, पाकिस्तान सचिवालय और राजनयिक एन्क्लेव को टारगेट कर सकते हैं।

पीटीआई कार्यकर्ताओं पर पुलिस के साथ विवाद पर इमरान खान अपनी पार्टी के मार्च में शामिल हुए

ज़िम्बाब्वे के शांति सैनिक ने 2021 संयुक्त राष्ट्र सैन्य एडवोकेट ऑफ ईयर पुरस्कार जीता

फिलीस्तीनी प्राधिकरण ने अमेरिका से अपनी आतंकवादी सूचियों से पीएलओ को हटाने के लिए कहा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -