SBI एटीएम से पैसे निकालने का बदला नियम, 18 सितम्बर से इस तरह निकलेंगे पैसे

SBI एटीएम से पैसे निकालने का बदला नियम, 18 सितम्बर से इस तरह निकलेंगे पैसे

COVID-19 संकट में बैंक फ्रॉड के केस रफ़्तार से बढ़े हैं। रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया के कड़े नियमों के बाद भी बैंकों में हेराफेरी हो ही जाती है। जालसाज सामान्य व्यक्तियों को लूटने का कोई न कोई ढंग ढूंढ लेते हैं। बढ़ते अपराध को ध्यान में रखते हुए भारत के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने अपने कस्टमर को राहत दी है। भारतीय स्टेट बैंक ने सुरक्षित बैंकिंग प्राप्त कराने के लिए नई एटीएम सेवा आरम्भ की है।

एसबीआई ने वन टाइम पासवर्ड (OTP) आधारित एटीएम कैश विड्रॉल व्यवस्था को 24 घंटे लागू करने का निर्णय किया है। 18 सितंबर से यह नियम पुरे देश में लागू हो रहा है। मौजूदा वक़्त में यह सुविधा रात में आठ बजे से प्रातः आठ बजे तक उपलब्ध है। बैंक में कस्टमर की तरफ से दिए गए पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जाएगा, जिसके माध्यम से पैसों की निकासी होगी। मतलब 18 सितंबर से एसबीआई के एटीएम से 10,000 रुपये अथवा इससे अधिक रकम निकालने पर दिन में भी ओटीपी की आवश्यकता होगी। 

साथ ही एक जनवरी 2020 से स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने एटीएम से निकासी के लिए ओटीपी आवश्यक किया था। एसबीआई ने कहा है कि कस्टमर बैंक में अपना मोबाइल नंबर अपडेट करा लें। वही प्रक्रिया के तहत जब आप राशि की निकासी कर रहे होंगे, तब एटीएम की स्क्रीन पर राशि के साथ-साथ ओटीपी स्क्रीन भी दिखाई देगी। कस्टमर को ओटीपी उनके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा। इससे जालसाजी की संभावनाएं कम होंगी। ध्यान रहे कि ओटीपी आधारित नकद निकासी की सुविधा सिर्फ एसबीआई एटीएम में ही उपलब्ध है। इसी के साथ ये सुविधा धोखाधड़ी रोकने के लिए की गई है।

लगातार तीसरे दिन उछला सोने का भाव, चांदी में आई गिरावट

देश के निर्यात में आई भारी गिरावट, व्यापार घाटा कम होकर 6.77 अरब डॉलर पर आया

SBI ग्राहकों के लिए लाया नई सुविधा, सीईओ ने दी जानकारी