हार्ट आॅफ एशिया सम्मेलन: पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रवैया अपनाएगा भारत

हार्ट आॅफ एशिया सम्मेलन: पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रवैया अपनाएगा भारत
Share:

नई दिल्ली: दिसंबर माह के प्रारंभ होते ही एक बार फिर भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर घेराबंदी प्रारंभ कर दी है। भारत के सीमावर्ती क्षेत्रों में होने वाले आक्रमण और सीमावर्ती क्षेत्रों में बढ़ती आतंकी घुसपैठ के खिलाफ भारत पंजाब में आयोजित होने वाले हार्ट आॅफ एशिया सम्मेलन में अपनी बात रखेगा।

हार्ट आॅफ एशिया सम्मेलन की शुरूआत 4 दिसंबर को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी की मौजूदगी में होगी। इस दौरान विभिन्न देशों के मंत्री आपस में चर्चा करेंगे। अफगानिस्तान के विदेश मंत्री हिकमत खलील बैठकों में भागीदारी करेंगे। भारत द्वारा इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में पाकिस्तान से आतंकवाद को लेकर कार्रवाई करने की बात कही जाएगी।

इतना ही नहीं पाकिस्तान का विरोध करने के लिए ईरान के चाबहार बंदरगाह परियोजना में रूस और पश्चिम और मध्य एशियाई देशों को शामिल करने के बारे में चर्चा की जाएगी। इस सम्मेलन में विभिन्न देश अफगानिस्तान के रिकंस्ट्रक्शन को लेकर बात करेंगे। इतना ही नहीं। हार्ट आॅफ एशिया सम्मेलन में 6 ठे दिन सुरक्षा और एशियाई क्षेत्र के विकास को लेकर चर्चा की जाएगी।

पाकिस्तान का होगा विरोध

इस सम्मेलन में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के विदेश मामले के सलाहकार सरताज अजीज शामिल होंगे। माना जा रहा है कि अजीज भारत पर पाकिस्तान के खिलाफ खुफिया कार्रवाई को गति देने, हिंसा बढ़ाने और पाकिस्तान में असंतोष उपजाने का आरोप लगा सकते हैं मगर पाकिस्तान को भारत की खरी - खरी आतंकवाद और सीज़फायर को लेकर सुननी होगी।

चीन से बुलेट ट्रेन मांगने पर जब पाकिस्तान का उड़ा मजाक .

पाकिस्तान के सबसे अमीर व्यक्ति ने की पीएम मोदी की सराहना

 

 

 

 

 

 

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -