इस साल भी होली पर न पिचकारी चलेगी, न गुलाल उड़ेगा, राज्य सरकार ने लगाई रोक

अहमदाबाद: कोरोना महामारी के खिलाफ जारी अंतिम जंग के बीच एकबार फिर से इसका ग्राफ तेज रफ्तार से बढ़ने लगा है। कोरोना ने एक बार फिर से देश में रफ्तार पकड़ ली है। कोरोना के बढ़ते रफ्तार ने केंद्र और राज्य सरकारों के साथ-साथ आम लोगों को टेंशन में डाल दिया है। कोरोना को लेकर एकबार फिर से लोगों की धड़कनें तेज होने लगी है।

देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 47 हजार के लगभग नए मामले सामने आए हैं। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कई राज्यों ने एक बार फिर से कई स्थानों पर लॉकडाउन या नाइट कर्फ्यू लागू कर रखा है, तो कई राज्यों ने स्कूल और कॉलेज को एक बार फिर से बंद कर दिए हैं। इन सबके बीच होली (Holi 2021) को लेकर राज्य सरकारें अलर्ट हो गई है। गुजरात सरकार ने रंगों के त्योहार होली पर होली खेलने पर पाबन्दी लगा दी है। हालांकि लोगों को होलिका दहन की अनुमति होगी। सीमित तादाद में लोग होलिका दहन में शामिल हो सकेंगे। 

गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने कहा कि राज्य में होली उत्सव के आयोजन पर रोक रहेगी, केवल सीमित लोगों के साथ होलिका दहन की इजाजत होगी। उन्होंने कहा कि लोगों को रंग खेलने की इजाजत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि लोगों को भीड़ में एक दूसरे पर रंग डालने की अनुमति नहीं होगी। आगे नीतीन पटेल ने कहा कि नियम का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। उन्होंने भरोसा जताया कि गुजरात के लोग नियमों का पालन करेंगे और इस साल होली नहीं खेलेंगे।

अपने दोस्त हरमन के संगीत में मज़े से झूमते हुए नज़र आए राज कुंद्रा

मार्च अंत और अप्रैल के इस-इस दिन बंद रहने वाले है बैंक

अंतरराष्ट्रीय वन दिवस: कटते जा रहे हैं जंगल और कम होते जा रहे हैं पेड़, रोकने के लिए बढ़ाना होगा कदम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -