एयरलाइन कंपनियों को सरकार ने लताड़ा, कहा- कैंसिल टिकेटों के पैसे रिफंड करो

Apr 08 2021 01:26 PM
एयरलाइन कंपनियों को सरकार ने लताड़ा, कहा- कैंसिल टिकेटों के पैसे रिफंड करो

नई दिल्ली: गत वर्ष लॉकडाउन से पहले बड़ी तादाद में लोगों ने विभिन्न जगहों पर यात्रा के लिए फ्लाइट की टिकटें बुक कराईं थी, मगर कोरोना संक्रमण महामारी के कारण लॉकडाउन लग जाने के कारण वे लोग यात्रा के लिए जा नहीं पाए और जहां थे वहीं रह गए. यहां तक कि यात्रा के लिए बुक कराई गईं टिकटों के पैसे भी उन्हें एयरलाइन कंपनियों द्वारा वापस नहीं किए, जिसे लेकर अब नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एयरलाइन कंपनियों को लताड़ लगाई है और उनके इस रवैये पर नाराजगी जताई है.

MoCA के सचिव ने बुधवार को यात्रियों के क्रेडिट शेल के रिफंड के बारे में एयरलाइंस के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक का नेतृत्व किया. बता दें कि क्रेडिट शेल एक क्रेडिट नोट है, जिसका उपयोग कैंसल्ड PNR के विरुद्ध किया जाता है. इतना ही नहीं इसका इस्तेमाल यात्री भविष्य में टिकट बुकिंग के लिए भी करते हैं. एक अधिकारी ने बताया कि, ‘MoCA सचिव ने क्रेडिट शेल रिफंड के मामले में सभी एयरलाइन कंपनियों के साथ आज एक मीटिंग की और गत वर्ष लॉकडाउन से पहले पैसेंजर्स द्वारा खरीदी गई टिकटों का पैसा वापस नहीं करने को लेकर एयरलाइन कंपनियों को लताड़ लगाई और उनके रवैये के प्रति असंतोष जताया.

गोएयर (GoAir) और इंडिगो (IndiGo) ने मंत्रालय को अपना वचन पत्र (Undertaking) भी सौंपा है, जिसमें कहा गया है कि उन्होंने तमाम क्रेडिट शेल को पैसेंजर्स को रिफंड कर दिया है. बता दें कि भारत की शीर्ष अदालत ने MoCA को 31 मार्च तक सभी क्रेडिट शेल्स को क्लियर करने और यात्रियों को उनके पैसे वापस करने का आदेश दिया था.

एमसीएक्स गोल्ड वॉच: सोने की कीमत में फिर हुआ परिवर्तन, जानिए क्या है आज के भाव

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सोलर पीवी मॉड्यूल को बढ़ावा देने के लिए किया ये काम

कोरोना महामारी के दौरान केरल फाइनेंशियल कॉर्प ने किया दोगुना कारोबार