कोरोना के खतरे के बीच 12-14 साल के बच्चों को लेकर आई ये खुशखबरी

नई दिल्ली: भारत में जैसे-जैसे कोरोना तथा उसके नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के केस बढ़ रहे हैं, वैसे-वैसे केंद्र तथा प्रदेश सरकार ने टीकाकरण की प्रक्रिया को तेज कर द‍िया है. भारत में अभी 15-17 वर्ष की आयु वाले बच्‍चों को भी कोरोना टीके लगाए जा रहे है. इस बीच एक और अच्‍छी न्यूज़ सामने आई है, जहां नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप के चेयरमैन (NTAGI) डॉ एन के अरोड़ा ने कहा है कि मार्च से 12-14 वर्ष के बच्‍चों को भी यह टीका हो आरम्भ हो जाएगा. बता दें कि भारत में अब तक 15-17 वर्ष के 3 करोड़ से अधिक बच्चों को कोरोना टिकी की फर्स्ट डोज लग चुकी है.

वही अब तक तकरीबन 45% बच्चों को टीका लग चूका है. बड़ी बात यह है कि भारत ने मुकाम सिर्फ 13 दिन में ही हासिल कर लिया है. भारत में 15-17 वर्ष के बच्चों की टीकाकरण प्रक्रिया तीन जनवरी से आरम्भ हुई है. डॉक्‍टर अरोड़ा ने बताया, ‘जनवरी के आखिर तक 15-17 साल के 7.4 करोड़ बच्चों को कोरोना टीके की फर्स्ट डोज लग जाएगी.’

उन्‍होंने कहा, ‘इसके पश्चात् फरवरी के आरम्भ से हम इन बच्चों को दूसरी डोज देना आरम्भ कर देंगे तथा महीने के आखिर तक सबको वैक्सीन की दूसरी डोज लग जाएगी. इसके पश्चात् हम 12-14 वर्ष के बच्चों को फरवरी के आखिर से या फिर मार्च के आरम्भ से वैक्सीन देना आरम्भ कर सकते हैं.’ देश ने स्वास्थ्य देखभाल तथा अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं को कोरोना टीके की एहतियाती खुराक देना 10 जनवरी से आरम्भ कर दिया, जिसमें मतदान वाले पांच प्रदेशों में तैनात मतदान कर्मी तथा 60 वर्ष और उससे ज्यादा उम्र के लोगों को सम्मिलित किया गया है.

इन 7 राज्यों में अभी नहीं मिलेगी ठंड से राहत, IMD ने जारी किया अलर्ट

एक बार फिर कोरोना से देशभर में बढ़ी दहशत, 24 घंटों में सामने आए इतने केस

कर्नाटक द्वारा 200 स्टार्टअप को प्रदान की जाने वाली सीड फंडिंग: रिपोर्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -